विकास दुबे के साथी जय बाजपेई की संपत्ति कुर्क होने से पहले अपना कीमती सामान हटवाया

विकास दुबे के साथी जय बाजपेई  की संपत्ति कुर्क होने से पहले अपना कीमती सामान हटवाया

विकास दुबे के खास गुर्गे जय बाजपेई और उसके भाइयों के मकान में रह रहे किराएदारों ने शनिवार देर शाम अपना सामान निकाला।  इसकी आड़ में जय और उसके भाइयों के यहां से भी कुछ कीमती सामान सुरक्षित कर लिया गया।

इस दौरान बजरिया और नजीराबाद थाने की फोर्स तैनात रही, वहीं लगभग दो दर्जन वकील भी मौजूद थे।जय, उसके भाई अजयकांत, रजयकांत और शोभित बाजपेई की 11 सम्पत्तियों को कुर्क करने के आदेश शुक्रवार देर रात डीएम ने दिए थे। इनके ब्रह्मनगर वाले मकान में किराएदार भी हैं।

सम्पत्तियों की जब्तीकरण के आदेश के बाद वहां बसे किराएदारों ने अपना सामान निकालना शुरू कर दिया। शनिवार शाम साढ़े सात बजे से लोडर आने लगे। इसके बाद ट्रक पहुंचे। एक के बाद एक सारा सामान ट्रक और लोडरों में डालकर भेजा जाने लगा।

यह भी चर्चा रही है कि किराएदार के मकान खाली करने की आड़ में जय और उसके भाइयों का कीमती सामान सुरक्षित किया। हालांकि पुलिस का दावा है कि किराएदारों ने ही अपना सामान निकाला है। वीडियो में रजयकांत की बेटी को सामान निकालते देखा जा सकता है। 

इस दौरान वहां पर दो दर्जन वकील भी मौजूद रहे। पुलिस फोर्स भी पहुंच गई। सामान निकालने के दौरान पुलिस का एक सिपाही मोबाइल से वीडियो बना रहा था। उससे वकीलों ने अभद्रता की, जिसे दो थाने की फोर्स खड़ी ताकत रही। मोहित अग्रवाल, आईजी रेंज कहते हैं कि संपत्ति के जब्तीकरण का आदेश हुआ है। उसके यहां यदि किराएदार रह रहे हैं तो उन्हें अपना सामान निकालने का पूरा हक है। 

सूत्रों के मुताबिक, मकान के सबसे अंतिम चौथी मंजिल पर जय के परिवार के सदस्य रहते हैं। उन्होंने भी किराएदारों की आड़ में घरेलू सामान ट्रक में लादकर यहां से रवाना कर दिया।