सुलतानपुर अस्वस्थता के बावजूद मुरझाए चेहरो पर लगातार 200 दिनों से हंसी लाने में जुटे अखिलेश सिंह पर्वत

सुलतानपुर अस्वस्थता के बावजूद मुरझाए चेहरो पर लगातार 200 दिनों से हंसी लाने में जुटे अखिलेश सिंह पर्वत

सुलतानपुर:अस्वस्थता के बावजूद मुरझाए चेहरों पर लगातार 200 दिनो से हंसी लाने में जुटे अखिलेश सिंह पर्वत

सुलतानपुर:उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले में एक ऐसे व्यक्ति भी हैं जिनका कोरोना के बढ़ते संक्रमण में भी न तो हौसला डिगा और न ही लोगों की मदद करने की नीयत कमजोर हुई। हम बात कर रहे हैं जिले में समाजसेवा का सबसे मजबूत इरादा रखने वाले समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत के बारे में। देश अनलॉक होने के बाद सब कुछ बदल गया, अगर कुछ नहीं बदला तो वह है अखिलेश की इच्छा शक्ति। समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत स्वास्थ्य खराबी के कारण जनपद सुल्तानपुर से बाहर दक्ष नर्सिंग होम जौनपुर होने के बावजूद भी मदद का सिलसिला नहीं रूका। समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत कोरोना काल में बने ग़रीबों का सहारा,आज भी वो लोगों की लगातार कर रहे मदद,ना तो कोई सरकारी सहयोग लिया न ही कोई चंदा।किसी के मुस्कुराहटों पर हो निसार किसी का दर्द मिल सके तो ले उधार.समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत के फोन पर बजने वाली रिंगटोन महज ये मोबाइल पर गीत भर नहीं है।ये गीत अखिलेश सिंह पर्वत के जीवन का मकसद बन चुका है।समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत जिले ही उत्तर प्रदेश में समाजसेवा की मुकम्मल पहचान बन चुके हैं। बेसहारा लोगों के सहारा माने जाते हैं समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत 27वर्ष की आयु में 26बार रक्तदान भी कर चुके हैं।

समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत स्व राजेन्द्र सिंह सेवा फाउंडेशन के द्वारा लगातार सुल्तानपुर जिले और प्रदेश के अन्य जिलों में अपनी टीम के सदस्यों के माध्यम से लोगों  की मदद कर रहे हैं। सामाजिक कार्यों को लेकर अखिलेश द्वारा चलाये जा रहे अभियान 200वें दिन जौनपुर जनपद के अत्यंत गरीब परिवारों को राशन किट शनिवार को उपलब्ध कराया गया।आज के वितरण में डा वीके सिंह, अनिल मौर्या, किशन सिंह,सूरज मिश्रा आदि लोग मौजूद रहे।
 
इसके अलावा जब से प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लॉक डाउन की घोषणा की गई है, तब से टीम बनाकर खाद्य सामग्री वितरण के साथ ही जागरूकता फैलाने का काम भी कर रहें हैं। सेवा के 200 दिनों से स्वर्गीय राजेंद्र सिंह सेवा फाउंडेशन नामक संस्था के माध्यम से जिले के अलग-अलग गांवों में अत्यंत गरीब 1310 परिवारों को राशन,30500 मास्क,1555 सैनिटाइजर,1010 परिवारों को सब्जी की किट,10540 से ज्यादा साबुन,565 परिवारों को चाय किट और 2000 प्रवासियो को जलपान वितरण किया जा चुका है। अखिलेश का कहना है कि यह क्रम कोरोनाकाल तक चलता रहेगा।आपको बताते चलें समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत के द्वारा बनाई गई टीम के सदस्यों द्वारा लगातार प्रवासी मजदूरों  और मनरेगा मजदूरों को जलपान वितरित किया जा रहा है।

आपको बताते चलें समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत लगातार अपनी टीम के द्वारा जनपद के पत्रकार बंधुओं, सामाजिक संस्थाओं,स्वास्थ्य कर्मियों, बैंक कर्मचारियों,राजस्व कर्मियों और समाजसेवकों को कोरोना योद्धा प्रमाण पत्र और अंग वस्त्र देकर सम्मानित कर रहे हैं। समाजसेवी अखिलेश सिंह पर्वत बताते हैं कि यह क्रम कोरोनाकाल तक अनवरत जारी रहेगा।​