मौसम खराब होने के कारण नई दिल्ली की तीन उड़ानें रद्द

Public Route Share

मौसम खराब होने के कारण बुधवार को चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट से नई दिल्ली की तीन उड़ानें रद्द कर दी गईं। वहीं अधिकतर फ्लाइटें लेट हुईं। खराब मौसम का असर ज्यादातर दिल्ली के लिए आवागमन करने वाली फ्लाइटों पर पड़ा। लखनऊ से सुबह 6:40 बजे दिल्ली जाने वाली गो एयर की उड़ान रद कर दी गई।

Loading...

इसी तरह सुबह 8:30 बजे दिल्ली जाने वाली गोएयर की फ्लाइट और शाम 8 बजे दिल्ली से चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट आने वाली गो एयर की उड़ान निरस्त कर दी गई। उधर, लखनऊ से सुबह 7:45 बजे मुंबई जाने वाली इंडिगो की फ्लाइट एक घंटे देरी से उड़ान भर सकी।

सुबह 8:10 बजे पटना जाने वाली इंडिगो की उड़ान डेढ़ घंटा लेट हुई। दोपहर 1:35 पर मुंबई जाने वाली गो एयर की उड़ान 45 मिनट लेट रही। इंडिगो की दोपहर 3:10 बजे दिल्ली जाने वाली फ्लाइट 3:45 घंटे और शाम 5 बजे पटना जाने वाली फ्लाइट सवा घंटे देरी से अमौसी एयरपोर्ट से रवाना हो सकी।

श्रीनगर से 3:15 बजे चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पहुंचने वाली इंडिगो की फ्लाइट सवा 2 घंटे देरी से लैंड कर सकी। देर शाम तक अन्य शहरों से आने-जाने वाली फ्लाइटें भी लेटलतीफी की शिकार हुईं। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पर विमानों की सूचना बताने वाला डिस्प्ले बोर्ड बुधवार सुबह खराब हो गया। इससे यात्रियों को परेशानी हुई। जानकारी होने पर कर्मचारियों ने उसे ठीक कराया। सूत्रों के मुताबिक, बुधवार सुबह सवा नौ बजे एयरपोर्ट की न्यू टर्मिनल बिल्डिंग के बाहर लगा इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले बोर्ड बंद हो गया। इससे विमानों की कोई जानकारी न होने के कारण यात्रियों व उन्हें रिसीव करने आए परिवारीजनों को परेशानी होने लगी। जानकारी लेने के लिए वह काउंटर पर चक्कर लगाने लगे। बाद में इसकी सूचना एयरपोर्ट अधिकारियों को दी गई। इसके बाद कर्मचारियों ने उसे ठीक कराया। डिस्प्ले बोर्ड करीब एक घंटे तक खराब रहा।

Loading...
Loading...

Diksha Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कल यानि 10 जनवरी पड़ेगा चंद्रग्रहण जानिये इसकी खसियत।

Thu Jan 9 , 2020
Public Route Share चन्‍द्र ग्रहण यानि चंद्रमा, पृथ्‍वी और सूर्य का लाइन में आ जाना। इस स्थिति में पृथ्‍वी के कारण सूर्य की रोशनी चंद्रमा पर नहीं पड़ पाती है। ऐसी स्थिति में पृथ्‍वी की पूर्ण या आंशिक छाया चंद्रमा पर पड़ती है। धार्मिक परंपराओं के अनुसार चंद्रग्रहण और सूर्यग्रहण […]

Top Artical

Loading…