नन्हीं बेटी को गोद में लेकर आ रहीं ऑफिस IAS का ट्रांसफर

नन्हीं बेटी को गोद में लेकर आ रहीं ऑफिस IAS का ट्रांसफर

 यूपी सरकार ने बुधवार को दो आईएएस अफसरों के तबादले कर दिए। मुख्य विकास अधिकारी कानपुर देहात जोगिंदर सिंह को बरेली विकास प्रधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया है। सौम्या पांडेय ज्वांइट मजिस्ट्रेट गाजियाबद का सीडीओ कानपुर देहात बनाया गया है। सौम्या पांडेय नन्ही सी बेटी के साथ ड्यूटी पर लौटी थीं। बेटी के साथ ड्यूटी की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी।

संघ लोक सेवा आयोग की आईएएस परीक्षा 2016 में पहले प्रयास में ही अखिल भारतीय स्तर पर चौथी रैंक लाकर पूरे देश में प्रयागराज का मान बढ़ाने वाली सौम्या पांडेय एक बार फिर चर्चा में हैं। एसडीएम मोदीनगर के रूप में तैनात सौम्या ने कोरोना काल में समाज की सेवा के लिए मां बनने के महज 14 दिन बाद कामकाज संभाल लिया था। दुधमुंही बच्ची को गोद में लेकर दफ्तर में फाइलें निपटाती सौम्या का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उनके इस क़दम से उनकी देशभर में तारीफ़ हुई। 

2017 बैच की ट्रेनिंग के बाद उनकी पहली नियुक्ति मोदीनगर एसडीएम के पद पर हुई।  मार्च 2020 को सौम्या को ग़ाज़ियाबाद में बतौर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की ज़िम्मेदारी के अलावा पूरे जिले की कोविड मॉनिटरिंग सेल का प्रभारी बनाया गया। रोज़ाना ज़िलाधिकारी के अलावा अन्य अधिकारियों से समन्वय करने की ज़िम्मेदारी सौम्या पांडेय ने बख़ूबी निभाई। उनकी शादी आईएएस अधिकारी नितिन गौर से हुई है।

सौम्या ने डिलेवरी के लिए 8 सितंबर को अवकाश लिया था। पिता रवि पांडेय ने बताया कि सरकारी नियम के अनुसार उन्हें अधिकतम नौ महीने की मातृत्व अवकाश मिल सकता है। लेकिन 17 सितंबर को डिलेवरी के मात्र 14 दिन बाद एक अक्तूबर को फिर से कार्यभार ग्रहण कर लिया। हाशिमपुर मोहल्ले की रहने वाली सौम्या पांडेय आर्ट आफ लिविंग परिवार की सदस्य रही हैं।