*शिवगढ़ राजमहल के शाही दरबार में आयोजित जन प्रतिनिधियों की गुप्त मीटिंग कहीं कांग्रेश मुक्त रायबरेली का संकेत तो नही*

*शिवगढ़ राजमहल के शाही दरबार में आयोजित जन प्रतिनिधियों की गुप्त मीटिंग कहीं कांग्रेश मुक्त रायबरेली का संकेत तो नही*

*संवाददाता योगेश कुमार*

आखिर किस एजेंडे को लेकर शिवगढ़ राज महल के महेश विलास पैलेस में जूटे जिले के चार विधायक और तीन पूर्व विधायक शिवाकांत अवस्थी

शिवगढ़/रायबरेली: शिवगढ़ के महेश विलास पैलेस में आज बृहस्पतिवार को दिन भर जनपद के वीआईपी लोगों की गाड़ियां फर्राटाभरती रही। वहीं शिवगढ़ के शाही हाल में कमरा बंद करके जनपद के तीन वर्तमान व तीन भूतपूर्व विधायकों ने 3 घंटे तक मैराथन बैठक की। राजनीति के चौसर में विषाद बिछाने में माहिर खिलाड़ी कहे जाने वाले शिवगढ़ रियासत के सदर पूर्व एमएलसी राजा राकेश प्रताप सिंह ने जनपद की सभी महत्वपूर्ण हस्तियों को एक साथ बिठाकर एक ऐसी पहेली बुझा दी है, जिसको समझाने के लिए बड़े-बड़े दिग्गज काफी समय तक इसी में उलझे रहेंगे। इस मामले में पत्रकारों ने जब श्री सिंह से कई बार यह जानने का प्रयास किया कि, आखिर मामला क्या है। इन सभी दिग्गजों को बंद कमरे में बैठकर कौन सी रणनीति बनाई गई है। बार-बार कुदेरे जाने के बावजूद भी श्री सिंह ने बड़ी चतुराई से पूछे गए सवालों के जाल में खुद पत्रकारों को ही उलझा दिया और वह पहेली पहेली ही बनी रह गई। इस दौरान पत्रकारों ने वहां मौजूद जनप्रतिनिधियों से चुटीले सवाल भी किए, बार-बार यह जानने का प्रयास किया गया कि, मीटिंग का मकसद क्या है। किन-किन बिंदुओं पर चर्चा हुई। लेकिन बड़ी ही चतुराई से जनप्रतिनिधियों ने यह कहकर कि, वे सब जिले में भाजपा का परचम लहराने के लिए रणनीति बना रहे हैं, और साथ ही पूरे जनपद की सभी विधानसभाओं में विकास की किरण कैसे हर गांव तक पहुंचे, और भाजपा कार्यकर्ताओं का मनोबल कैसे ऊंचा उठाया जाए, ताकि आगामी पंचायती चुनाव समेत आने वाले सभी चुनावों में जिला भाजपा मय हो जाए। आपको बता दें कि, 8 अक्टूबर 2020 दिन बृहस्पतिवार सियासत के मामले में शिवगढ़ का महेश विलास पैलेस एक बार फिर केंद्र बिंदु बन गया। राजा राकेश प्रताप सिंह शिवगढ़ जो पूर्व में दो बार भाजपा से एमएलसी रह चुके हैं, उन्हीं की पहल पर सदर विधायिका आदिति सिंह, सलोन विधायक व पूर्व मंत्री दल बहादुर कोरी तथा बछरावां विधायक एवं भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष राम नरेश रावत के अलावा पूर्व विधायक व सरकारी बैंक के पूर्व चेयरमैन गजाधर सिंह और दो बार बछरावां से विधायक रह चुके राजाराम त्यागी तो बैठक में मौजूद ही रहे, वहीं सरेनी के भाजपा विधायक धीरेंद्र बहादुर सिंह जो अस्वस्थता के चलते मीटिंग में नहीं पहुंचे, लेकिन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उन्होंने बैठक में भाग लिया। तीन साढ़े तीन घंटे बंद कमरे में सियासत की कौन सी खिचड़ी पक्की, यह तो सार्वजनिक नहीं हो पाया। किंतु बैठक समाप्त होने के बाद स्थानीय पत्रकारों को बुलाकर पहले उन्हें पूर्व प्रमुख व राजा शिवगढ़ के बेटे कुंवर हनुमंत सिंह ने अंग वस्त्र तथा सैनिटाइजर युक्त पेन व डायरिया भेंट कर सभी पत्रकारों को सम्मानित किया गया। उसके बाद पत्रकार वार्ता का दौर शुरू हुआ। इस दौरान पत्रकारों ने सदर विधायिका आदिति सिंह से यह पूछा कि, वह किस पार्टी में है। क्या कांग्रेस उन्होंने छोड़ दी है। क्या भाजपा उन्होंने ज्वाइन कर ली है। लेकिन तेज तर्रार युवा विधायिका ने पत्रकारों को उन्हीं के सवालों में उलझा दिया, और कहा कि, वह जनता की विधायक हैं। 90 हजार से ज्यादा वोटों से जनता ने उन्हें चुना है। वह जनता के रुख को भांपकर जिले में विकास का परचम लहरा रही है, और उन्हें भारत का भविष्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा प्रदेश का विकास योगी आदित्यनाथ के हांथो में बहुत सुरक्षित दिखता है। श्रीमती सिंह ने कहा कि, वे जनता का प्रतिनिधि होने के नाते किसी भी पार्टी के नेता से मिल सकती हैं। लेकिन योगी आदित्यनाथ को वह अपना राजनैतिक आदर्श मानती हैं, और उनके किए गए कार्यों से बेहद संतुष्ट हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुक्त कंठ से प्रशंसा करते हुए कहा कि, वह ऐसे मजबूत प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने अपने कार्यकाल में कश्मीर से धारा 370 को हटवाया, कश्मीर को आतंक वाद मुक्त करने की दिशा में अग्रसर है, साथ ही श्री राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण का पथ मोदी सरकार के कार्यकाल में ही प्रशस्त हुआ, साथ ही चीन और पाकिस्तान को जिस भाषा में चाहिए, मोदी ने जवाब देकर भारत की ताकत को दुनिया के सामने नए ढंग से पेश किया है। उन्होंने यह भी कहा कि, जब उनसे यह प्रश्न पूछा जाता है कि, वह सारे जिले का दौरा क्यों कर रही है, क्या वह रायबरेली की सांसद सोनिया गांधी को टक्कर देना चाहती हैं, जिस पर उनका जवाब था कि, ऐसा नहीं है। पूरे जनपद में उनके दिवंगत पिता सदर विधायक अखिलेश सिंह से जुड़े लोग मौजूद हैं। जहां-जहां उन्हें बुलाया जाएगा वह बिना किसी हिचक के दौरा करती रहेंगी इसी क्रम में बछरावां विधायक से पत्रकारों ने पूछा कि, यहां पर विकास कार्यों की स्थिति क्या है, तो उन्होंने बताया कि, 4 साल के कार्यकाल में रिकॉर्ड तोड़ सड़कों का जाल बिछाया गया है। बरसात में खराब हुई सड़कों की मरम्मत का काम बरसात खत्म होने के बाद कराया जाएगा। इस संबंध में वह प्रदेश के उपमुख्यमंत्री तथा लोक निर्माण मंत्री केशव प्रसाद मौर्य से मिलकर कार्यों की सूची दे आएं हैं। वहीं छुट्टा जानवरों से हो रहे नुकसान के बारे में पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर श्री रावत ने कहा कि, सरकार लगातार गौशालाएं खोल रही है, शीघ्र ही विधानसभा क्षेत्र में एक विशाल गौशाला बनाने का प्रस्ताव है। इसके अलावा लोगों को अपने गोवंश के पशुओं को छुट्टा नहीं छोड़ देना चाहिए। इस मामले में शासन का सहयोग करना चाहिए। विधायक रामनरेश रावत द्वारा कही गई बातों का सदर विधायिका आदित्य सिंह ने पुरजोर समर्थन किया। जबकि पूर्व राज्य मंत्री दल बहादुर कोरी ने कहा कि, राजा राकेश प्रताप सिंह ने सभी जनप्रतिनिधियों को एक मंच पर बैठा कर एक नई शुरुआत की है। हम लोग विकास की राजनीति करने के लिए एकत्र हुए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि, बैठक में तय किया गया है कि, प्रत्येक माह में बैठक में मौजूद विधायकों व पूर्व विधायकों के यहां क्रमवार प्रत्येक ऐसी ही बैठक की जाएगी, और अगली बैठक सदर विधानसभा क्षेत्र के लालूपुर चौहान गांव में होगी। उन्होंने कहा कि, इस बैठक का उद्देश्य भारतीय जनता पार्टी को जन जन तक पहुंचाना है, और सामूहिक शक्ति के साथ जिला प्रशासन से लेकर प्रदेश सरकार तक अपनी आवाज पहुंचानी है। ताकि जिले का समग्र विकास हो सके। पत्रकार वार्ता में जिला सहकारी बैंक के पूर्व चेयरमैन गजाधर सिंह ने भी इस पहल का स्वागत किया और कहा कि, इससे भाजपा के जनाधार को विस्तार मिलेगा और जिले के विकास कार्य का पहिया और तेजी से घूमेगा। जबकि, पूर्व विधायक राजाराम त्यागी ने कहा कि, जिले के सर्वमान्य नेता पूर्व एमएलसी राजा राकेश प्रताप सिंह ने सदा यूं ही सकारात्मक सोच की राजनीति है। उसी का परिणाम है कि, आज एक सामूहिक शक्ति का निर्माण हुआ है। जो आने वाले दिनों में जिले की राजनीति में स्वर्णिम युग आएगा, वे लोग भाजपा की विचारधारा सबका साथ सबका विकास, सबका विश्वास को सार्थक करेंगे। आगामी पंचायत चुनाव में भाजपा का परचम पूरे जनपद में लहराएगा। कार्यकर्ताओं का सहयोग लेकर उनका मनोबल बढ़ा कर हम लोग भाजपा को मजबूती प्रदान करेंगे, साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रीतियों और नीतियों को जन-जन तक पहुंचाएंगे।