एनकाउंटर में विकास दुबे के साथ मारे गए बदमाशों सहित काटी गई 22 घरों की बिजली

एनकाउंटर में विकास दुबे के साथ मारे गए बदमाशों सहित काटी गई 22 घरों की बिजली

एनकाउंटर में मारे गए विकास दुबे समेत 22 घरों की दक्षिणांचल विद्युत निगम ने रविवार को बिजली काट दी। इनमें पुलिस मुठभेड़ में ढेर हुए कई लोगों के घर भी शामिल हैं। सभी पर बगैर मीटर बिजली इस्तेमाल करने का आरोप है। एसडीओ मैथा के नेतृत्व में अभियान चलाकर कनेक्शन काटे गए।

बिजली विभाग की टीम ने बिकरू में सुबह 10 बजे ही डेरा डाल दिया। एक-एक घर की चेकिंग की गई। सबसे पहले विकास दुबे के घर का कनेक्शन काटा। मीटर न लगने से हर माह औसत बिल जमा किया जा रहा था। प्रवीण, प्रभात के घर में भी एक किलोवाट से ज्यादा लोड मिला। 

दुबे की दहशत का आलम यह था कि उसने बिकरू में किसी के भी घर पर मीटर नहीं लगाने दिया था। फिक्स चार्ज पर बिलिंग हो रही थी लेकिन वसूली करने कोई जाता ही नहीं था। गांव में कनेक्शन लेने के बाद भी कई घरों में मीटर लगाए बिना ही लाइट जलाई जा रही थी। खुद विकास की कोठी में एक किलोवाट के कनेक्शन पर कई एसी, कूलर, टीवी, दो दर्जन से अधिक ट्यूबलाइट्स का इस्तेमाल हो रहा था।

बिकरू कांड में गिरफ्तार उमाकांत, श्यामू, रामू, गोपाल व गोविंद समेत 22 घरों में भी मीटर नहीं लगे मिले। घर में मिले लोग अस्थायी मीटर कनेक्शन के कागजात भी नहीं दिखा पाए। ऐसे में सभी के कनेक्शन काट दिए गए। कई का बिल भी 30 हजार रुपए तक बकाया निकला।

चोरी में कार्रवाई भी होगी।  एसडीओ ने बताया कि एक-एक घर में मीटर लगेगा। बिजली चोरी अधिनियम के तहत कार्रवाई भी की जाएगी। अभियान लगातार जारी रहेगा।