महिला सिपाही के पति की चाकू से गोदकर की हत्या, जाने क्या था पूरा मामला

महिला सिपाही के पति की चाकू से गोदकर की हत्या, जाने क्या था पूरा मामला

उरई शहर कोतवाली क्षेत्र में सेवायोजन कार्यालय के पास गुरुवार रात महिला कांस्टेबल के पति की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। खाना खाते समय विवाद होने पर रिश्तेदारों ने ही उसे मौत के घाट उतार दिया। सूचना पर एसपी, एएसपी व सीओ समेत पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा। तीन लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

महिला सिपाही रिंकी राजपूत के पति मनीष राजपूत की खौफनाक हत्या की जानकारी होते ही मोहल्ले के लोग स्तब्ध रह गए और सन्नाटा खिंच गया। पति की हत्या के बाद रोती बिलखती रिंकी की चीखें ही सुनाई दे रही थीं। मोहल्ले के लोगों की मदद से रिंकी ने खून से लथपथ पति को अस्पताल पहुंचाया लेकिन उसकी पहले ही मौत हो चुकी थी।

शिवपुरी मोहल्ले में अभियोजन कार्यालय में तैनात महिला सिपाही रिंकी राजपूत अपने पति मनीष राजपूत के साथ किराए के मकान में रहती हैं। मनीष मूलरूप से फतेहपुर जनपद के बिंदकी का निवासी था। गुरुवार को मनीष के रिश्तेदार आए हुए थे। शाम को खाना खाते समय मनीष का रिश्तेदारों से विवाद हो गया। रिश्तेदारों ने ही चाकू से गोदकर उसकी हत्या कर दी।

रिंकी के ही नजदीकी रिश्तेदारों ने ही उसका सुहाग उजाड़ दिया। प्रभारी निरीक्षक जेपी पाल ने बताया कि महिला सिपाही के मामा एवं भाई समेत तीन लोगों के हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मोहल्ले के लोगों ने बताया कि हिरासत में लिए गए लोगों के कपड़े खून से सने थे। मनीष बेहद सरल स्वभाव का था और बेरोजगार था। पति की हत्या के बाद बेसुध रिंकी फिलहाल कुछ भी नहीं बता रही है।

मामले की जानकारी होते ही एसपी यशवीर सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. अवधेश सिंह, सीओ सिटी संतोष कुमार, प्रभारी निरीक्षक जेपी पाल मौका ए वारदात पर पहुंचे। घटनास्थल पर चार फीट तक फर्श खून से लाल था, जिससे साफ होता है कि आरोपितों ने निर्मम तरीके से मनीष की हत्या की है। एसपी डॉ. यशवीर सिंह का कहना है कि हिरासत में लिए गए तीनों रिश्तेदारों से पूछताछ के बाद ही हत्या की वजह साफ होगी।