जिलाधिकारी ने दो ग्राम प्रधानों द्वारा पराली/ कृषि अपशिष्ट जलाने की घटना को रोकने एवं व्यापक प्रचार न करने पर दिया नोटिस

जिलाधिकारी ने दो ग्राम प्रधानों द्वारा पराली/ कृषि अपशिष्ट जलाने की घटना को रोकने एवं व्यापक प्रचार न करने पर दिया नोटिस

कानपुर देहात जनपद के ग्राम पंचायत डढ़ापुर के ग्राम प्रधान शिवकुमार व ग्राम पंचायत उमरन के ग्राम प्रधान श्रीमती स्वदेश कुमारी के खिलाफ जिलाधिकारी डॉ दिनेश चंद्र के निर्देशन पर खंड विकास अधिकारी राजपुर व खंड विकास अधिकारी सरवनखेड़ा द्वारा राजस्व ग्राम नैनपुर विकासखंड राजपुर व ग्राम पंचायत उमरन विकासखंड सरवन खेड़ा कानपुर देहात में पराली जलाने की घटना घटित होने के संबंध में मौखिक रूप से अवगत कराया गया है कि शासनादेश के तहत जनपद स्तर पर एक सेल का गठन किया गया था

जिसके तहत प्रत्येक दिन की घटनाओं का अनुश्रवण किए जाने व प्रत्येक ग्राम के ग्राम प्रधान एवं क्षेत्रीय लेखपाल को किसी भी दशा में अपने संबंधित क्षेत्र में पराली कृषि अपशिष्ट जलाने की घटना को रोकने जाने के निर्देश दिए गए थे

उक्त के अतिरिक्त कृषकों को पराली जलाने से मिट्टी, जलवायु एवं मानव स्वास्थ्य को होने वाली हानि से अवगत कराने के साथ-साथ पराली जलाने पर उनके विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई किए जाने के निर्देश भी दिए गए थे

उक्त निर्देशों के तहत पराली कृषि अपशिष्ट जलाने घटना को रोकने एवं व्यापक प्रचार-प्रसार न करने से स्पष्ट होता है कि ग्राम पंचायत डढ़ापुर के ग्राम प्रधान शिवकुमार व ग्राम पंचायत उमरन के ग्राम प्रधान श्रीमती स्वदेश कुमारी द्वारा अपने ग्राम प्रधान के पदीय दायित्वों का निर्वहन नहीं किया गया है के तहत नोटिस धारा 95 (1) (छ) के अंतर्गत स्पष्टीकरण सहित एक पक्ष के अंदर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें स्पष्टीकरण में उत्तर प्रदेश पंचायत राज अधिनियम 1947 की धारा(1)(छ) के अंतर्गत प्रधान पद से हटाने की कार्रवाई की जाएगी जिसके लिए जिम्मेदार स्वयं होंगे।

कानपुर देहात से विकाश कटियार की रिपोर्ट।