पुलवामा हमले के बारे मे राहुल गांधी ने  पूछे सवाल ,जानिए क्या

पुलवामा हमले के बारे मे राहुल गांधी ने पूछे सवाल ,जानिए क्या

Public Route Share

पुलवामा हमले की आज पहली बरसी है। इस मौके पर पूरा देश वीर जवानों की शहादत को याद कर रहा है। लेकिन राजनीति इस पर भी हावी होती नजर आ रही है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पुलवामा हमले की पहली बरसी पर शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए तीन सवाल पूछे हैं।

उन्‍होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया है कि इस हमले का सबसे ज्यादा फायदा किसे हुआ? इस पर भाजपा राहुल गांधी पर हमलावर हो गई है। जम्मू-कश्मीर जोन के स्पेशल सीआरपीएफ डीजी जुल्फिकार हसन ने कहा कि दोषियों का हिसाब किया जा चुका है।

पुलवामा हमले की जांच के बारे में पूछने पर जम्मू-कश्मीर जोन के स्पेशल सीआरपीएफ डीजी जुल्फिकार हसन ने कहा कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा इस मामले की जांच की जा रही है। यह सही दिशा में आगे बढ़ रही है। जहां तक मुझे पता है, उन्होंने बहुत बड़ी प्रगति की है। हमने शहीदों के परिवारों की देखभाल करने की पूरी कोशिश की है। पुलवामा हमले के षड्यंत्रकारियों को घटना के कुछ महीने बाद निष्प्रभावी कर दिया गया था। उनकी मदद करने वाले कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिन लोगों ने हमले को आजम दिया था, उनका हिसाब किया जा चुका है।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा, ‘कथित गांधी परिवार फायदे से आगे का सोच ही नहीं पाती। ये सिर्फ भौतिक रूप से ही भ्रष्ट नहीं हैं, बल्कि इनकी आत्मा भी भ्रष्ट है।’ वहीं, भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए लिखा है, ‘शर्म करो राहुल गांधी। पूछते हो पुलवामा हमले से किसका फायदा हुआ? अगर देश ने पूछ लिया कि इंदिरा राजीव की हत्या से किसका फायदा हुआ, फिर क्या बोलोगे। इतनी घटिया राजनीति मत करो, शर्म करो।’


शर्म करो राहुल गांधी…!

भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा ने भी राहुल गांधी को आड़े हाथों लेते हुए ट्वीट किया, ‘ऐसे मौके पर जब देश पुलवामा हमले के शहीदों को याद कर रहा है। तब लश्कर और जैश-ए-मोहम्मद से सहानुभूति के लिए जाने जाने वाले राहुल गांधी ने ना सिर्फ सरकार पर, बल्कि सुरक्षा बलों पर भी निशाना साधा है। राहुल कभी वास्तविक दोषी पाकिस्तान से सवाल नहीं करेंगे। शर्म करो राहुल…!’

राहुल गांधी के सवाल

राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा कि आज हम पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों को याद कर रहे हैं। चलिए बात करते हैं- तीन सवालों में दो सवाल कुछ यूं हैं। उन्होंने पूछा है, ‘इस हमले की जांच में क्या सामने आया? सुरक्षा में हुई चूक के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया गया है?’

Loading...
Loading...

गौरतलब है कि पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को आत्मघाती हमला हुआ था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। आज इस हमले की पहली श्रद्धांजलि है और देशभर में श्रद्धांजलि दी जा रही है। इस मौके पर श्रीनगर स्थित सीआरपीएफ के लेथपोरा में मेमोरियल पर शहीद जवानों को श्रद्धासुमन अर्पित किए गए।

Loading...
Loading...
Author Image
Diksha Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *