पाेस्ट ऑफिस में होंगे पैन कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन

पाेस्ट ऑफिस में होंगे पैन कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन

अब डाकघर में सिर्फ पैसे की ही बचत नहीं होगी, बल्कि डाकघरों के माध्यम से जाति, आय, वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन, बीमा, पासपोर्ट, किसान क्रेडिट कार्ड, डीजल अनुदान के साथ बुजुर्गों को मिलने वाले सरकारी सेवाओं का ऑनलाइन आवेदन भी हो सकेगा। 

इसके लिए डाकघरों में कॉमन सर्विस सेंटर(सीएससी) खुलने जा रहा है। पहले चरण में अगले माह से प्रधान डाकघरों में सुविधा शुरू होगी। इसके बाद उपडाकघरों के लिए योजना बनेगी। मास्टर ट्रेनर आ गए हैं। ट्रेनिंग का कार्य चल रहा है। 

प्रदेश और केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ देने के लिए पहले चरण में प्रधान डाकघर में कॉमन सर्विस सेंटर खोला जाएगा। यहां सरकार की योजनाओं के ऑनलाइन आवेदन का लाभ ले सकेंगे। प्रवर अधीक्षक डाक मेरठ-मुजप्फरनगर वीर सिंह ने बताया कि कॉमन सर्विस सेंटर में डाक विभाग के ही कर्मचारी काम करेंगे। इसके लिए कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

डाकघर में यह सेंटर खुलने से आम लोगों को दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा और नेटवर्किंग की समस्या भी नहीं होगी। कॉमन सर्विस सेंटर और डाकघर जुड़ने से कई समस्याएं खत्म हो जाएंगी। डाकघरों में धीरे-धीरे सभी डिजिटल सेवाओं का विस्तार किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री स्कीम से जुड़ी सभी योजनाओं के पंजीकरण डाकघरों में खुलने वाले सीएससी में उपलब्ध कराने की योजना है। यदि किसी को प्रधानमंत्री जन धन खाता खोलना हो या प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में पंजीकरण सब कुछ एक ही जगह हो जाएगा। यही नहीं, पड़ोस के डाकघर में ही किसान अपनी फसल के बीमा के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का भी लाभ ले सकेंगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पंजीकरण की सुविधा भी वहां मिलेंगी। जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के साथ जीवन प्रमाण, पानी-बिजली के बिल जमा होगा, पैन कार्ड भी बनेगा। आईटी और ​जीएसटी रिटर्न भी दाखिल कराया जा सकेगा। बताया जाता है कि डाकघरों में कॉमन सर्विस सेंटर में मिलने वाली सेवाएं नि:शुल्क नहीं बल्कि सशुल्क होंगी लेकिन उतना ही शुल्क चुकाना होगा जितना सरकार ने अधिकृत किया हुआ है।

मेरठ सिटी, कैंट, कचहरी डाकघर, मेडिकल कॉलेज, सीसीएसयू, सरधना, मवाना, खरखौदा, परीक्षितगढ़, हस्तिनापुर, मोदीपुरम, दौराला, बागपत के बड़ौत प्रधान डाकघर को लिया है मुजफ्फरनगर-शामली जिलों में इन डाकघरों में खुलेंगे कॉमन सर्विस सेंटर : मुजफ्फरनगर शहर, बुढ़ाना, खतौली, शामली, जानसठ, कैराना, कांधला डाकघर शामिल किए।

वीर सिंह, प्रवर अधीक्षक डाक मेरठ-मुजफ्फरनगर ने बतया कि आधार कार्ड, पासपोर्ट और रेलवे काउंटर अलग से चल रहे हैं। वह चलते रहेंगे। इनके अलावा अन्य सुविधाएं डाकघरों में खुलने वाले कॉमन सर्विस सेंटर में मिलेंगी। मेरठ, बागपत, मुजफ्फरनगर और शामली जिलों में डाकघरों में कॉमन सर्विस सेंटर के लिए काउंटर स्थल चयनित कर लिए हैं। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद मुख्यालय के निर्देश पर सेवा शुरू करा दी जाएगी। फिलहाल पेंशनर्स को जीवन प्रमाण पत्र जारी करने शुरू कर दिए हैं।
  
कोरोना काल में लोगों को बिजली-पानी के बिल जमा करने से लेकर जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने, पेंशनरों के लिए जीवन प्रमाण पत्र बनाना और पासपोर्ट बनवाने जैसे जरूरी काम के लिए इधर उधर चक्कर न लगाने पड़े अब यह सब सेवाएं डाकघर में ही मिल जाएगी। इनमें केंद्र और राज्य सरकार की आमजन से जुड़ी 76 सेवाएं मिलेंगी।