सरदार भगत सिंह की जयंती चौबेपुर में युवाओ द्वारा मनाई गई

सरदार भगत सिंह की जयंती चौबेपुर में युवाओ द्वारा मनाई गई

सरदार भगत सिंह की जयंती चौबेपुर में युवाओ द्वारा मनाई गई
सरदार भगत सिंह की जयंती चौबेपुर में युवाओं द्वारा मनाई गई महान क्रांतिकारी मां भारती के वीर सपूत शहीद-ए-आजम सरदार भगत सिंह की जयंती नेहरू युवा केंद्र कानपुर नगर युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा विकासखंड चौबेपुर के ग्राम गौरी लक्खा में युवा मंडल सदस्यों के द्वारा मनाई गई जिसमें सर्वप्रथम युवा मंडल के सदस्यों द्वारा सरदार भगत सिंह जी के चित्र पर पुष्प अर्पित किए गए और उनको नमन किया गया इस अवसर पर नेहरू युवा मंडल के अध्यक्ष विनय त्रिपाठी ने बताया इनका जन्म 28 सितंबर 1907 को हुआ था और उनकी मृत्यु 23 मार्च 1931 को हुई थी इनके द्वारा मातृभूमि के प्रति शहीद भगत सिंह का प्यार त्याग और समर्पण असाधारण एवं वंदनीय है भगत सिंह के बलिदान से युवाओं में राष्ट्रभक्ति का एक ऐसा ज्वार आया जिससे पूरे देश में स्वाधीनता की लहर जाग उठी थी मां भारती के लिए अपने प्राणों को निछावर करने वाले थे सभी युव साथियों ने शहीद भगत सिंह चित्र पर फूल माला अर्पित कर उनको याद किया गया इस अवसर पर राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक अमित कुमार के द्वारा भी भगत सिंह के जीव जुड़ी विभिन्न बातों को युवाओं को बताया गया भगत सिंह ने कहा था मेरा धर्म देश की सेवा करना है 23 वर्ष की उम्र में ही उनको फांसी की सजा देगी दे दी गई थी उनके पूरे परिवार में देशभक्ति दिखाई देती थी भारत की आजादी में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही और उनके योगदान को हम सभी युवा भुला नहीं सकते जयंती कार्यक्रम में मुख्य रूप से विनय त्रिपाठी अमित कुमार रोहित विवेक विशाल अवनीश श्रीष अर्पित आदि युवा मंडल के सदस्य उपस्थित रहे