एक मासूम बच्ची को नोचकर मार डाला

डॉग केयर पर छिड़ी बहस

 
मेनका गांधी
डॉग केयर, दिल्ली में,मासूस बच्ची

देश की राजधानी दिल्ली में आवारा कुत्तों का आंतक बढ़ता जा रहा है। पश्चिम दिल्ली के मोती नगर इलाके में पार्क में तीन साल की एक मासूस बच्ची को आदमखोर बने आवारा कुत्तों ने नोच खाया, जिससे उसकी मौत हो गई। इस मामले को लेकर वरिष्ठ पत्रकार आलोक मेहता ने भाजपा सांसद मेनका गांधी को ट्विटर पर टैग करते हुए लिखा कि कुत्तों को इंसान से ज़्यादा अधिकार है।

वहीं वरिष्ठ पत्रकार के ट्वीट के बाद आवारा कुत्तों को लेकर बहस छिड़ गई है। पत्रकार हर्षवर्धन त्रिपाठी ने इसे गंभीर मामला बताया। उन्होंने आलोक मेहता के ट्वीट पर लिखा, “अत्यंत गम्भीर है सर, लेकिन सरकार से लेकर समाज तक मनुष्य से अधिक कुत्ताप्रेमी हो गया है। इस तेज़ी से संख्या बढ़ रही है कि आने वाले दिनों में ऐसे दर्दनाक हादसे बढ़ेंगे। हमारी सोसायटी तक में कुत्तों ने बुरा हाल कर रखा है। देसी सड़क पर और घरों में विदेशी कुत्ते मनुष्य पर भारी पड़ रहे।”

वहीं काउंसिल ऑफ स्ट्रैटेजिक अफेयर्स से संबद्ध सामरिक विश्लेषक दिव्य कुमार सोती ने लिखा, “कुत्तों की देसी नस्लें घरों में पाली जानी चाहिए और विदेशी नस्लों को पालना कम होना चाहिए। सड़कों की स्थिति में स्वतः सुधार होगा।” जिसपर हर्षवर्धन ने लिखा कि कुत्तों को घर में पालना किसी स्थिति में ठीक नहीं है, हालाँकि हम जैसे लोग अब अल्पसंख्यक हो चुके हैं।