किसान आंदोलन : गांव मिलने पहुंचे बीजेपी मंत्री को ग्रामीणों ने भगाया, लगाए मुर्दाबाद के नारे।

बता दें कि खाप चौधरियों ने सुबह ही ये स्पष्ट कर दिया था कि वो बीजेपी नेताओं से नहीं मिलना चाहते। इसके बावजूद उसके 32 खाप के गांव भैंसवाल में मंत्री अपने काफिले के साथ पहुंचे थे, जहां पर उनको किसानों के ‘गुस्से’ का सामना करना पड़ा।

किसान आंदोलन : गांव मिलने पहुंचे बीजेपी मंत्री को ग्रामीणों ने भगाया, लगाए मुर्दाबाद के नारे।

देशभर में कृषि कानूनों के विरोध में हो रहे आंदोलन का खामियाजा बीजेपी को भुगतना पड़ रहा है। पहले सिर्फ पंजाब और हरियाणा में ही बीजेपी के लिए मुश्किलें थी जो अब बढ़कर यूपी की सत्तारूढ़ पार्टी बीजेपी के नेताओं तक पहुंच चुकी है।

यूपी के शामली से एक ताजा मामला सामने आया है। यूपी के शामली में केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के नेतृत्व में खाप चौधरियों से मिलने उनके गांव आने वाले भाजपा नेताओं को किसानों ने बीच रास्ते में ही रोक दिया और उनके खिलाफ जमकर ‘नारेबाजी’ की गई।

दरअसल भैंसवाल गांव में केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के नेतृत्व में भाजपा नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल नए केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर बत्तीसा खाप के चौधरी बाबा सूरजमल से मुलाकात करने के लिए पहुँचा था।

आपको बता दें कि वहाँ पहले से ही मौजूद ग्रामीणों ने मुख्य सड़क पर ट्रैक्टर-ट्रॉली खड़ा कर दिया और उनको गांव में घुसने नहीं दिया। जैसे-तैसे कर नेता गांव में चले गए तो वहां पर मौजूद किसानों ने मुर्दाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए।

वहीं इस दौरान भाजपा के नेताओं और प्रतिनिधिमंडल के विरुद्ध जमकर ‘हंगामा’ हुआ। इस दौरान विरोध इतना बढ़ गया कि आखिर में संजीव बालियान को अपने काफिले के साथ वापस लौटना पड़ा।

इस मामले का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें बीजेपी नेताओं के ख़िलाफ़ ग्रामीणों के गुस्से को साफ़ तौर पर देखा जा सकता है। वीडियो में ग्रामीण संजीव बालियान और उनकी पार्टी के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी करते दिखाई दे रहे हैं।