छोटी काशी सज-धजकर तैयार, आज 11 हजार करोड़ की देंगे सौगात।

 
modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हेलिकॉप्टर सुबह करीब 10:00 बजे कांगणीधार हेलीपैड पर उतरेगा। कांगणीधार में लैंडिंग नहीं हो पाई तो नेर ढांगू या बहु तकनीकी कॉलेज सुंदरनगर में हेलिकॉप्टर उतारा जाएगा। 11:00 बजे वह मंच पर पहुंचेंगे और 12:00 बजे दिल्ली लौट जाएंगे।

इन परियोजनाओं का होगा शुभारंभ
7,000 करोड़ की रेणुका बांध परियोजना और 1,800 करोड़ की 210 मेगावाट से अधिक की लुहरी स्टेज-1 पनबिजली परियोजना की आधारशिला रखेंगे। 2,000 करोड़ रुपये की शिमला जिले में पब्बर नदी पर बनी 111 मेगावाट की सावड़ा कुड्डू पनबिजली परियोजना का लोकार्पण करेंगे। 700 करोड़ रुपये से बनने वाली 66 मेगावाट की धौलासिद्ध पनबिजली परियोजना का शिलान्यास करेंगे। 

23,000 करोड़ रुपये का होगा निवेश
दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में 23,000 करोड़ रुपये की पूंजी का निवेश होगा।  

पीएम को दिए जाएंगे ये तोहफे
चंबा थाल
सात फीट त्रिशूल
पश्मीना शाल
सेपू बड़ी 
रैली में जाने वाली बसों में नहीं बैठेंगे 40 से ज्यादा लोग
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में जाने वाली बसों में 40 से ज्यादा लोग नहीं बैठेंगे। बसों में सवारियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। सर्दी-जुकाम से पीड़ित लोगों को बसों में चढ़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी। सवारियों के लिए बसों के भीतर मास्क लगाना अनिवार्य होगा। बिना मास्क बस में बैठने नहीं दिया जाएगा। निगम प्रबंधन ने इस बारे में निर्देश जारी किए हैं। चालकों-परिचालकों को व्यवस्था का जिम्मा सौंपा है। निगम प्रबंधन ने विभिन्न क्षेत्रों के लिए एचआरटीसी बसें भेज दी हैं। सुबह चार बजे से रैली स्थल के लिए बसें आनी शुरू हो जाएंगी। 9 बजे तक सभा स्थल पर लोगों को पहुंचाया जाना है। बसों में कोई भी सवारी खड़ी नहीं रहेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए छोटी काशी सज-धजकर तैयार है। जयराम सरकार के चार साल पूरा होने का जश्न मंडी के ऐतिहासिक पड्डल मैदान में सोमवार को पीएम मोदी की मौजूदगी में मनाया जाएगा। पीएम यहां जनसभा करेंगे। वह दो घंटे रुकेंगे। पीएम प्रदेश को 11,000 करोड़ रुपये की सौगात भी देंगे। इस दौरान सेकेंड ग्राउंड सेरेमनी का आयोजन भी किया जाएगा। 200 निवेशक मंडी पहुंच चुके हैं। पांच चुनिंदा निवेशकों से पीएम बातचीत भी करेंगे।

मौसम साफ रहा तो पीएम का हेलिकॉप्टर सुबह करीब 10:00 बजे कांगणीधार हेलीपैड पर उतरेगा। कांगणीधार में लैंडिंग नहीं हो पाई तो नेर ढांगू या बहु तकनीकी कॉलेज सुंदरनगर में हेलिकॉप्टर उतारा जाएगा। 11:00 बजे वह मंच पर पहुंचेंगे और 12:00 बजे दिल्ली लौट जाएंगे। पीएम के दौरे को लेकर जमीन से आसमान तक कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। 2,000 से अधिक पुलिस अधिकारी और कर्मचारी तैनात किए गए हैं। 

पीएम के दौरे में खलल डाल सकती है बारिश
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हिमाचल दौरे के दौरान बारिश खलल डाल सकती है। प्रदेश और जिला मंडी में पिछले तीन दिनों से मौसम खराब है। सुबह और शाम के समय धुंध पड़ रही है। 26 दिसंबर को मौसम ने करवट ली है। निचले क्षेत्रों में बारिश और पहाड़ों में बर्फबारी का क्रम शाम तक जारी रहा।

रविवार को मौसम के मिजाज ने 27 दिसंबर को पीएम मोदी के दौरे को लेकर शासन और प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। हालांकि, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बड़ा देव कमरुनाग से गूर के माध्यम से मौसम साफ रखने की गुहार लगाई है। रविवार को सीएम पड्डल मैदान में तैयारियों का जायजा लेते रहे। बारिश से लोगों को बचाने के लिए पड्डल में डोम लगाए गए हैं।

सुबह साढ़े आठ बजे खुलेंगे गेट
सुबह करीब साढ़े आठ बजे आम लोगों के लिए पड्डल में गेट खोल दिए जाएंगे। मोबाइल के अलावा अन्य कोई इलेक्ट्रानिक सामग्री आयोजन स्थल में लाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। बीड़ी, सिगरेट, माचिस, लाइटर, बैग, पानी की बोतलें और किसी प्रकार के झंडे ले जाना वर्जित होगा। पानी की व्यवस्था पड्डल में ही होगी। सभा स्थल में आने-जाने के लिए निर्धारित रास्तों का इस्तेमाल करना होगा।