देश का सबसे बड़ा गंगा एक्सप्रेस वे,अडानी ग्रुप बनाएगा

अडानी ग्रुप को स्वीकृति पत्र यूपी एक्सप्रेस-वे इंडस्ट्रियल डवलपमेंट अथॉरिटी की तरफ से मिला
 
अडानी
अडानी ग्रुप, यूपी एक्सप्रेस-वे,17,000 करोड़ रुपये

बता दें कि अडानी समूह गंगा एक्सप्रेस वे में बदायूं से प्रयागराज तक 464 किमी का निर्माण करेगा। जिसमें इस प्रस्तावित एक्सप्रेसवे का 80% कार्य तीन समूहों में शामिल है। बदायूं से हरदोई तक 151.7 किमी, हरदोई से उन्नाव तक 155.7 किमी और उन्नाव से प्रयागराज तक 157 किमी। गौरतलब है कि अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड एक्सेस छह-लेन एक्सप्रेसवे के तीन समूहों का निर्माण करेगा, जिसे आठ लेन तक बढ़ाया जा सकता है।

उत्तर प्रदेश में मेरठ से प्रयागराज तक प्रस्तावित 17,000 करोड़ रुपये की लागत की 594 किमी लंबे छह लेन गंगा एक्सप्रेसवे का काम अडानी समूह को दिया गया है। इसमें आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर्स भी शामिल हैं। बता दें कि यह एक्सप्रेसवे देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बताया जा रहा है। जहां विपक्ष भाजपा पर अडानी-अंबानी पर मेहरबान होने का आरोप लगाती है, वहीं अडानी समूह को गंगा एक्सप्रेसवे का काम मिलना फिर से चर्चा का विषय बन गया है।

गंगा एक्सप्रेसवे मेरठ को प्रयागराज से जोड़ेगा। डिजाइन, निर्माण, वित्त, संचालन और हस्तांतरण (डीबीएफओटी) के आधार पर लागू होने वाला यह भारत का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बताया जा रहा है। अडानी इंटरप्राइजेज ने इसके निर्माण को लेकर कहा है कि वह उत्तर प्रदेश में तीन हिस्सों में छह लेन के एक्सप्रेसवे का निर्माण करेगी जिसे आठ लेन तक बढ़ाया जा सकेगा। 

डानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड (एईएल) को मिले गंगा एक्सप्रेसवे परियोजना सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) के तहत देश की किसी निजी कंपनी को दी गई अब तक की सबसे बड़ी एक्सप्रेसवे परियोजना है। अडानी ग्रुप को स्वीकृति पत्र यूपी एक्सप्रेस-वे इंडस्ट्रियल डवलपमेंट अथॉरिटी की तरफ से मिला।