स्मृति ईरानी ने अपने खास दोस्त को दिया धोखा और पति से की शादी बानी स्मृति मल्होत्रा से ईरानी

 
8हम

सब जानते हैं कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी राजनेत्री बनने से पहले अभिनेत्री भी रह चुकी हैं। क्योंकि सास भी कभी बहू के जरिए स्मृति ईरानी ने घर-घर अपनी खास पहचान बनाई थीं। उस सीरियल में उन्होंने एक आदर्श बहू का रोल निभाया लेकिन असल लाइफ में लोग उन्हें आदर्श बहू नहीं बल्कि घर तोड़ने वाली महिला का खिताब तक दे चुके हैं और उन्हें एक स्वार्थी महिला कहकर ट्रोल भी कर चुके हैं।

हालांकि बहुत से लोग नहीं जानते कि स्मृति ईरानी के परिवार में कौन-कौन हैं उनके पति कौन हैं और उनकी लवस्टोरी क्या है? चलिए आपको उनकी दिलचस्प लवस्टोरी ही आपको बताते हैं दरअसल उन्होंने किसी और से नहीं बल्कि अपनी सहेली के पति से ही प्यार किया और फिर शादी। चलिए पहले आपको उनके पति जुबीन ईरानी के बारे में बताते है। उनके पति जुबीन ईरानी एक अमीर पारसी बिजनेसमैन हैं और वह पहले से ही शादीशुदा थे। उनकी पहली पत्नी स्मृति ईरानी की सहेली ही थी और स्मृति ईरानी अपनी सहेली के पति को ही दिल दे बैठी थीं। अपनी सहेली की वजह से ही वह जुबीन ईरानी से मिली थी और उनसे अच्छी दोस्ती भी बन गई थी। जिस सहेली ने स्मृति को अपने घर में पनाह दी। उसी सहेली को स्मृति की वजह से अपने घर से बेघर होना पड़ा। कहते हैं ना कि प्यार के आगे किसी का जोर नहीं, शायद इसी वजह से अपनी ही सहेली की वह दुश्मन बन गई। 

पैसे के लिए रेस्टरां में किया था काम

स्मृति शादी से पहले स्मृति मल्होत्रा था और शुरू में पैसों की बहुत तंगी में भी थी, इसके लिए वह एक रेस्टरां में काम करने लगी थी। रेस्टरां में नौकरी करते वक्त स्मृति की मुलाकात एक अमीर पारसी लड़की मोना ईरानी से हुई जो उनकी खास दोस्त बन गई। खबरों के मुताबिक, मोना ईरानी अरबपति खानदान की बहू थी। मगर उस वक्त स्मृति को पैसों की काफी जरूरत थी। उस वक्त स्मृति के पास मुंबई में कई बार फ्लैट का किराया देने के लिए भी पैसे नहीं हुआ करते थे। कहा जाता है कि फ्लैट का किराया भरने के लिए भी मोना ईरानी ही स्मृति की मदद किया करती थी। वह स्मृति को अपने घर भी ले आई। 

स्मृति और जुबीन की ऐसी हुई मुलाकात  

एक समय ऐसा भी आया जब स्मृति और जुबीन एक दूसरे से रोज मिलने लगे। स्मृति ईरानी, जुबीन के साथ काफी टाइम स्पैंड करती औऱ हर काम के लिए सलाह भी लेने लगी। जुबीन ने भी अपनी पत्नी को तलाक देने का मन बना लिया और सीरियल 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' के हिट होने के बाद स्मृति ईरानी ने शादी करने का फैसला किया। स्मृति ईरानी ने अपने परिवार को अपने और जुबीन ईरानी के रिश्ते के बारे में बता दिया। जुबीन ईरानी ने भी अपनी मां को स्मृति ईरानी के घर भेजकर शादी की बात छेड़ दी थी। एक इंटरव्यू में स्मृति ईरानी ने बताया था कि उनके परिवार ने जुबीन ईरानी को देखते ही पसंद कर लिया था और उन्हें कोई ऐतराज भी नहीं था। रजामंदी मिलते ही दोनों ने साल 2001 में शादी कर ली। दोनों ने पहले ही साल अपने पहले बच्चे का स्वागत किया जिसका नाम उन्होंने जोहर रखा और साल 2003 में एक बेटी को जन्म दिया। बच्चों की परवरिश के लिए उन्होंने एक्टिंग से ब्रेक ले लिया। 

पत्ति ने दिया सफलता में साथ

स्मृति का कहना है कि उनकी हर सफलता में उनके पति ने उन्हें पूरा स्पोर्ट किया है।  एक इंटरव्यू में स्मृति ने कहा था कि 'मैंने जुबिन से शादी की, क्योंकि मुझे उनकी जरुरत थी। मैं उनसे सलाह लेती थी, उनसे बात करती थी, हम रोज मिलते थे। तो हमने सोचा कि क्यों ना हम एक-दूसरे से शादी कर लें और हमेशा के लिए एक अच्छे दोस्त और शादीशुदा कपल बन जाएं। शादी दोनों के परिवार की रजामंदी से हुई थी। बता दें कि जुबिन ईरानी और मोना ईरानी की बेटी शेनेल, स्मृति ईरानी के साथ ही उनके घर में रहती हैं। सौतेली मां के साथ शेनेल की बॉन्डिंग काफी अच्छी है।