मेरठ में ईद पर चली गोलियां, कई जगह बवाल।

 
Ead

मेरठ में ईद पर कई जगह बवाल हुआ। गोलियां चली और पथराव हुआ। लावड़ कस्बे में कुरैशी समुदाय के लोग भिड़ गए। इसमें दर्जनभर लोगों को छर्रे लगे और कई लोग पथराव में घायल हो गए। लिसाड़ी गेट के हुमायूंनगर में भी नमाज पढ़ने को लेकर हुए विवाद में दोनों ओर से गोलियां चली। पथराव में यहां भी कई लोग जख्मी हो गए। कोतवाली क्षेत्र के बनीसराय में भी दो पक्षों में पुरानी रंजिश में फायरिंग हुई, हालांकि यहां कोई हताहत नहीं हुआ। पिलोखड़ी क्षेत्र में भी दो पक्षों में मामूली कहासुनी पर फायरिंग की सूचना आई।

लावड़ के मोहल्ला घासमंडी में शनिवार दोपहर मेडिकल स्टोर पर दवाई खरीदने को लेकर कुरैशी बिरादरी के दो पक्षों में कहासुनी के बाद मारपीट हो गई। दोनों पक्षों में जमकर पथराव और फायरिंग हुई। छर्रे लगने से ईद की बधाई देने जा रहे बच्चों सहित एक दर्जन लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची चौकी पुलिस पर भी बवालियों ने पथराव करते हुए दौड़ा लिया। पुलिस ने लाठियां फटकारते हुए लोगों को खदेड़ा और घायलों को दौराला सीएचसी में भर्ती कराया।

शनिवार दोपहर कस्बा निवासी साबिर पहलवान का बेटा राजा साथी फैसल के साथ शाह आलम के मेडिकल स्टोर पर दवाई लेने के लिए गया था। बताया गया है कि उनकी शाह आलम से कहासुनी हो गई। आरोप है कि स्टोर संचालक ने अपने साथियों समीम, मोमिन के साथ मिलकर राजा से मारपीट कर दी। मारपीट के बाद राजा ने मामले की जानकारी अपने परिजनों को दी। विरोध करने पर शाह आलम और राजा पक्ष के लोग आमने-सामने आ गए। दोनों पक्षों में मारपीट के दौरान जमकर पथराव हुआ। आरोप है कि शाह आलम पक्ष के मुर्सलीम ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग कर दी। सूचना पर पहुंची 100 डायल और चौकी पुलिस ने बवाल कर रहे लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन आरोपियों ने पथराव कर पुलिस को दौड़ा लिया। फायरिंग से लोगों में भगदड़ मच गई। पुलिस फोर्स संग पहुंचे एसओ इंचौली पंकज शर्मा ने लाठी फटकारते हुए बवालियों को दौड़ाया। वहीं फायरिंग में परचून की दुकान पर सामान लेने जा रही पांच वर्षीय मुस्कान, साबान, नौ वर्षीय आदिल, दिलशाद, आदिल, फैसल, राजा और नासिर घायल हो गए। जबकि दूसरे पक्ष से हाकमीन और मुस्तकीम भी घायल हुए। पुलिस ने घायलों को दौराला सीएचसी में भर्ती कराया, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

वहीं हुमायूं नगर निवासी मोहम्मद आसिफ का आरोप है जब वह नमाज पढ़ने गया था तो उसका पड़ोस में रहने वाले आबिद से विवाद हो गया। वहां पर आसपास के लोगों ने दोनों में बीच बचाव करा दिया। उसके बाद दोनों पक्षों के लोग आमने सामने आ गए। आरोप है कि आबिद ने अपने साथियों को फोन करके बुला लिया। जानलेवा हमला करके फायरिंग की। सूचना पर सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला व लिसाड़ी गेट पुलिस मौके पर पहुंची। सीओ ने बताया कि अभी तक की जांच में सामने आया कि दोनों पक्षों में पुराना विवाद चल रहा है। दोनों पक्षों ने एक दूसरे को पर फायरिंग करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मौके से कारतूस और कई खोखे भी बरामद किए हैं। मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। उधर, पिलोखड़ी पुलिस चौकी क्षेत्र में भी दो पक्षों में फायरिंग की सूचना आई। पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन किसी ने पुष्टि नहीं की।