पीएम मोदी के साथ बैठी भाजपा नेत्री जो 8 साल तक अपनी नौकरानी को बंदी बनाकर करती रही टॉर्चर, और अपने बेटे को भेजा पागल खाना: अब हुई गिरफ्तार

 
जक

भाजपा महिला मोर्चा की नेता और सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी की पत्नी सीमा पात्रा को रांची पुलिस ने आठ साल तक अपनी नौकरानी को प्रताड़ित करने और मारपीट करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. सीमा पात्रा को पार्टी ने कल निलंबित कर दिया था. मंगलवर को सीमा के यहां घरेलू नौकरानी का काम करने वाली सुनीता का बयान कोर्ट में दर्ज करवाया गया था. सीमा पात्रा ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया है. उन्होंने कहा कि उनके ऊपर लगाए सभी आरोप झूठे हैं और उन्हें फंसाया जा रहा है.

8 साल तक करती रही टॉर्चर
सीमा पात्रा के घर काम करने वाली युवती ने अपनी आपबीती सुनाते हुए एक वीडियो रिकॉर्ड किया था. यह वीडियो जब वायरल हुआ तो मामला सामने आया. वीडियो में युवती ने बताया कि सीमा पात्रा ने उसे कभी गरम तवे से जलाया, तो इतना मारा कि दांत टूट गए और भूखे प्यासे कमरे में बंधक बनाए रखा. महिला ने बताया था कि सीमा पात्रा जीभ से पेशाब साफ करने के लिए मजबूर करती थीं. सीमा ने महिला पर ये जुल्म 8 साल तक किया. सुनीता ने एक दिन सरकारी कर्मचारी को मैसेज भेजकर अपने ऊपर हो रहे अत्याचार के बारे में जानकारी दी. जिसपर कार्रवाई करते हुए रांची पुलिस ने पिछले हफ्ते महिला को सीमा पात्रा के घर से छुड़ाया था.


कौन हैं सीमा पात्रा
सीमा पात्रा पूर्व आईएएस अधिकारी महेश्वर पात्रा की पत्नी हैं. ये कपल रांची के अशोक नगर में रहता है और इनके दो बच्चे हैं. पति महेश्वर पात्रा राज्य में आपदा प्रबंधन विभाग में सचिव रहे हैं और विकास आयुक्त के पद से रिटायर हुए हैं. सीमा झारखंड में भाजपा की प्रमुख स्थानीय नेता हैं. वह भाजपा के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की राज्य संयोजक थीं. पात्रा भाजपा की महिला विंग की राष्ट्रीय कार्यसमिति की सदस्य थीं. 1991 में सीमा पात्रा ने पलामू से लोकसभा चुनाव लड़ा था. दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, वह दो साल से कांग्रेस की सदस्य थीं, वह कुछ समय के लिए पार्टी की राज्य सचिव भी थीं. कथित तौर पर उन्होंने कुछ स्थानीय फिल्मों में भी अभिनय किया है.