भाजपा सरकार की तरफ से बांटे जा रहे नमक के पैकेट में निकली बालू, योजना के नाम पर बड़ा खिलवाड़।

 
भाजपा

बस्ती में गरीबों को निशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराने की सरकारी योजना के तहत कोटे की दुकानों से गरीब उपभोक्ताओं को दिए जा रहे नमक में बालू और मोरंग मिला है। इसकी कई गरीब उपभोक्ताओं ने शिकायत की। नमक की पैकेट में मोरंग और बालू मिलने की शिकायत के बाद रियलिटी चेक किया गया, तो शिकायत की पुष्टि हुई है।

गरीबों को फ्री में बांटा जा रहा नमक

नरहरिया, चिकवा टोला मोहल्ले में कई घरों से सरकारी नमक का पैकेट लेकर उसे बर्तन में रखकर पानी डाल कर घोला गया। घोलने के बाद उसे छाना गया, तो उसमें मोरंग और बालू मिला। इस नमक की आपूर्ति भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ नाम की संस्था कर रही है। जो भारत सरकार की है।

इस नमक के पैकेट पर खाद्य सुरक्षा गारण्टी की मोहर लगी है। ये भी लिखा है कि ये केवल सरकारी आपूर्ति के लिए है। यह नमक गरीबों को निशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराने की योजना के तहत बांटा जा रहा है।

नमक के हर पैकेट पर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री की फोटो छपी है। जिससे उनका प्रचार हो रहा है। पैकेट पर सोच ईमानदार…काम दमदार का स्लोगन भी लिखा है, लेकिन इस फ्री का नमक वितरण गरीबों के जीवन से खिलवाड़ है।