गायत्री प्रजापति पर रेप का मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला लखनऊ में गिरफ्तार

 
gjnhgkmjgh

बता दें कि महिला के खिलाफ जमीन की धोखाधड़ी और रंगदारी मांगने के मामले में कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। इस पर शनिवार को गोमतीनगर विस्‍तार पुलिस ने ऐक्‍शन लेते हुए महिला को आशियाना स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया।

दरअसल, सितम्‍बर 2020 में गोमतीनगर एक्‍सटेंशन थाने में गायत्री प्रजापति की कंपनी के पूर्व डायरेक्‍टर स्‍व.बृजमोहन चौबे ने गायत्री प्रजापति, अनिल प्रजापति और उस महिला के खिलाफ धोखाधड़ी, जालसाजी, जान से मारने की धमकी देने और पैसे हड़पने के आरोपों को लेकर एफआईआर दर्ज कराई थी।

आरोप है कि रेप केस में बयान बदलने के लिए गायत्री प्रजापति ने बृजमोहन चौबे की जमीन भी महिला के नाम लिखवा दी थी। आरोप है कि बयान बदलने के बाद महिला ने बृजमोहन चौबे से 2 करोड़ रुपए मांगे थे। इस केस में पुलिस चार्जशीट लगा चुकी है। बताया जा रहा है कि गवाही देने के लिए कोर्ट की ओर से बार-बार नोटिस जारी की गई लेकिन महिला नहीं पहुंची तो उसके खिलाफ वारंट जारी हो गया। 

गायत्री प्रजापति पर लगाया था रेप का आरोप 

26 अक्‍टूबर 2016 को चित्रकूट की रहने वाली इसी महिला ने गोमती नगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। महिला ने बबलू सिंह, आशीष शुक्‍ला और एक अन्‍य व्‍यक्ति पर रेप का मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मामले में उसने सपा सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रजापति पर भी आरोप लगाया था। उसने गायत्री प्रजापति पर उसके साथ-साथ उसकी बेटी के भी रेप का आरोप लगाया था।