यूपी लेखपाल परीक्षा पेपर लीक, 21 लोग गिरफ्तार

 
Con

यूपी में राजस्व लेखपाल मुख्य परीक्षा (Lekhpal Exam) में अभ्यर्थियों से मोटी रकम लेकर साल्वर बैठाने, ब्लूटूथ के जरिए नकल कराने और परीक्षा केंद्रों (Examination Center) की शुचिता भंग करने के आरोप में 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इनमें पेपर साल्वर, गैंग लीडरों और अभ्यर्थी शामिल हैं. इन्हें यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है. यह गिरफ्तारी ऐसे समय में हुई है जब मुख्य विपक्षी पार्टी समाजवादी पार्टी  (Samajwadi Party) ने लेखपाल परीक्षा में कथित पेपर लीक (Paper Leak) को लेकर सरकार पर हमला बोला है. 

 

एसटीएफ को मिल गई थी पहले से जानकारी

बता दें कि यूपी में आज राजस्व लेखपाल परीक्षा आयोजित की जा रही है. वहीं गिरफ्तारी को लेकर एडीजी एसटीएफ अमिताभ यश ने बताया, 'राज्य के 12 जनपदों में लेखपाल राजस्व मुख्य परीक्षा आयोजित कराई जा रही है. एसटीएफ को पहले से जानकारी मिली थी कि कुछ गैंग, साल्वर और ब्लूटूथ का इस्तेमाल करके अभ्यर्थियों को नकल कराने का प्रयास करेंगे. यूपी में अलग-अलग स्थानों से कुल 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.'

एसटीएफ ने नकल माफिया, अभ्यर्थियों और साल्वर को गिरफ्तार किया है. ये साल्वर केवल यूपी के नहीं बल्कि बिहार से भी बुलाए गए थे. पुलिस ने नकल माफिया नरेंद्र कुमार पटेल, संदीप पटेल, विजयकांत पटेल, सहयोगी दिनेश कुमार यादव और सोनू कुमार को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि विजयकांत ने अभ्यर्थियों से 10-10 लाख रुपये लिए थे और उन्हें बदले में ब्लूटूथ डिवाइस उपलब्ध कराई थी. वहीं पुलिस ने प्रयागराज से अभ्यर्थी दिनेश कुनार साह, वाराणसी से दिलीप गुप्ता, कानपुर से करण कुमार को गिरफ्तार किया जबकि पटना के रहने वाले साल्वर संजय कुमार यादव, मुरादाबाद से रविंद्र कुमार, मेरठ से मोहित और लखनऊ से साल्वर राजू कुमार को अरेस्ट किया है. पुलिस ने हरियाणा के सोनीपत निवासी नीरज को भी गिरफ्तार किया है जिसपर साल्वर की व्यवस्था करने के आरोप हैं.