गैंगरेप की शिकायत दर्ज कराने गई नाबालिग से पुलिस थाने में रेप, SHO गिरफ्तार

 
Lalitpur
Lalitpur minor Rape Case: उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले में एक शर्मनाक वाकया सामने आया है, जिसमें सामूहिक गैंगरेप की शिकायत करने पहुंची एक नाबालिग से थाने में भी कथित तौर पर बलात्कार किया गया. 13 साल की पीड़िता ने थाने के एसएचओ पर गैंगरेप का आरोप लगाया है. इसके बाद एसएचओ  तिलकधारी सरोज को गिरफ्तार कर लिया गया. मामले में थानाध्यक्ष समेत 6 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई थी. 13 वर्षीया किशोरी ने आरोप लगाया है कि पहले 4 लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया और फिर जब वह अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंची तो थानाध्यक्ष ने थाने के अंदर उसके साथ बलात्कार किया. पुलिस स्टेशन के सभी अन्य पुलिसकर्मियों को पहले ही ड्यूटी से हटा दिया गया है. डीआईजी लेवल की जांच केस में हो रही है और उनसे 24 घंटे में रिपोर्ट देने को कहा गया है. 

ललितपुर के एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया को बताया कि एसएचओ और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमों का गठन किया गया है. बता दें कि पीड़िता ने इस पूरी घटना की शिकायत एसपी से की है, जिसके बाद ये कार्यवाई हुई है.पीड़िता का कहना है कि उसके साथ चार युवकों ने रेप किया, जिसकी शिकायत दर्ज कराने वो अपने एक रिश्तेदार के साथ पुलिस स्टेशन गई थी. बाद में आरोपी एसएचओ को गिरफ्तार कर लिया गया है.

शिकायत के अनुसार, नाबालिग लड़की का 22 अप्रैल को चार युवकों ने अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था. आरोपियों के चंगुल से छूटकर जब पीड़िता थाने में न्याय की गुहार लगाने पहुंची तो उसको न्याय देने की जगह उत्पीड़न का शिकार होना पड़ा. आरोप है कि वहां मौजूद थानाध्यक्ष तिलकधारी सरोज ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया. पीड़ित ने अपनी आपबीती एसपी को सुनाई जिसके बाद कार्रवाई की गई. 

ललितपुर पुलिस का कहना है कि उन्होंने मामले में एसएचओ और अन्य के खिलाफ बलात्कार और पॉक्सो एक्ट के तहत आरोप लगाए हैं. ललितपुर के एसपी निखिल पाठक ने बताया कि हमने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है और उससे पूछताछ कर रहे हैं. एसएचओ निलंबित है और वह एक अपराधी है. इसलिए हमने उसे गिरफ्तार करने के लिए टीमों का गठन किया और उसे पकड़ा. एक एनजीओ लड़की को उनके कार्यालय में लेकर गई. इसके बाद लड़की ने सारी बातें बताईं.