यूरिया खाद के छिड़काव के सजीव प्रदर्शन का शुभारंभ किया

 
up

आपको बता दें भारत सरकार के उपरोक्त उद्देश्य की पूर्ति व किसानों की आय एवं उनके आत्मविश्वास को बढ़ाने की दिशा में कृषक उत्पादक संगठनों तथा क्षेत्रीय किसानों की उपस्थिति में आज मंडलायुक्त ,कानपुर डॉ राजशेखर व डीडीआर सिंह कुलपति ,चंद्र शेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कानपुर ने आईआईटी कानपुर एवं कृषि विभाग कानपुर के संयुक्त तत्वाधान में अ वे टू प्रिसीजन एग्रीकल्चर के अंतर्गत चंद्र शेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर के प्रक्षेत्र पर नैनो यूरिया खाद के छिड़काव के सजीव प्रदर्शन का शुभारंभ किया।
इस दौरान आईआईटी कानपुर के विशेषज्ञ श्री सुब्रमण्यम सदरला द्वारा उपस्थित दर्शकों तथा कृषक उत्पादक संगठन के प्रतिनिधियों को ड्रोन की तकनीक एवं उसके प्रयोग में ली जाने वाली सावधानियां एवं इसकी उपयोगिता के संबंध में बताया गया।


इस दौरान मंडलायुक्त डॉ राजशेखर द्वारा कृषि क्षेत्र में कृषक उत्पादक संगठनों के माध्यम से ड्रोन के प्रयोग से माननीय प्रधानमंत्री जी के सपनों को साकार किए जाने हेतु मंडल के प्रेषक उत्पादक संगठनों के प्रतिनिधियों के मध्य ड्रोन का प्रचार प्रसार करते हुए अग्रणी भूमिका निभाने की अपील की गई तथा मंडल के सभी जनपदों में सजीव प्रदर्शन कराने के लिए अनुरोध किया गया तथा आईआटी कानपुर के विषय विशेषज्ञों से ड्रोन की बैटरी की क्षमता बढ़ाने के लिए तथा उनकी सर्विस सेंटर की स्थापना कराने के लिए भी सुझाव दिया गया।