बसपा से हाथी हुआ चोरी ,मायावती ने जताई चिंता

 
सक

राजधानी लखनऊ के बुध विहार पार्क से हाथी की आकृति चोरी होने के मामले में उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती का बड़ा बयान सामने आया है. बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर लिखा कि देश में उपेक्षित, तिरस्कृत, दलित और अन्य पिछड़े वर्ग में जन्मे महान संतों, गुरुओं, महापुरुषों के आदर-सम्मान में बीएसपी सरकार ने भव्य डॉ. भीमराव अम्बेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल का निर्माण कराया था. उन्होंने कहा कि यह पर्यटन का मुख्य केन्द्र भी है. . भीमराव अम्बेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल से हाथी का चोरी होना शर्म और चिन्ता की बात है.

दरअसल लखनऊ स्थित बुध विहार पार्क से हाथी की मूर्ति चोरी का मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक गोमती रिवरफ्रंट पर बने बुध विहार पार्क में लगे एक फाउंटेन में ये हाथी की मूर्ति लगी हुई थी, जो कि अब चोरी हो गई है. इस मामले में सुरक्षाकर्मी नियाज अहमद की तहरीर पर गौतमपल्ली पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है. जिस जगह से हाथी की मूर्ति चोरी हुई थी. चोरी हुई मूर्ति का वजन लगभग दो से तीन किलो होगा. वहीं जहां से चोरी हुई है वहां सुरक्षाकर्मियों के अलावा किसी और को जाने की अनुमति नहीं है.

अंबेडकर पार्क के इस फाउंटेन में हाथियों की छोटी-बड़ी कई मूर्तियां लगी हैं. यहां हर तरफ सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं. वहीं पार्क की सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मी रहते हैं. इसके अलावा सुबह शाम हाथियों की मूर्ति की गिनती की जाती है, जिसका रिकॉर्ड अधिकारियों को भेजा जाता है. ऐसे में मूर्ति चोरी हो जाना अपने आप में बड़ा सवाल है. पुलिस अब वहां पर तैनात कर्मचारियों से लेकर सभी एंगल पर जांच कर रही है.