चिकित्सा के क्षेत्र में सीएसजेएमयू और फॉर्च्यून हॉस्पिटल मिलकर करेंगे काम

 
हज

आपको बता दें छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के हेल्थ सांइस विभाग के छात्रों को अब फॉर्च्यून हॉस्पिटल के साथ मिलकर काम करने का अवसर मिलेगा। वहीं फॉर्च्यून हॉस्पिटल के विशेषज्ञ भी अपने अनुभवों को यूनिवर्सिटी के क्लासरूम में स्टूडेंट्स के साथ साझा कर सकेंगे। रिसर्च और चिकित्सा शिक्षा में परस्पर सहयोग के लिए ही दोनों संस्थानों के बीच एमओयू (मेमोरैण्डम आफ अण्डरस्टैण्डिंग) साइन किया गया।
विश्वविद्यालय के सेंटर ऑफ एकेडमिक भवन में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में दोनों संस्थानों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

प्रति कुलपति प्रो सुधीर कुमार अवस्थी एवं फॉर्च्यून हॉस्पिटल के निदेशक डा0 मनीष वर्मा ने हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर प्रो0 सुधीर कुमार अवस्थी ने कहा कि कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक के निर्देशन में हुए इस एमओयू से दोनों संस्थाओं को चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर काम करने का अवसर मिलेगा। छात्र विभिन्न विधाओं में समाज की सेवा के दृष्टिगत कई नयी तकनीकों से अवगत होंगे, छात्रों को वास्तव में सही प्रकार का प्रशिक्षण मिल सकेगा, जिससे आने वाले समय में वह समाज के लिए अति उपयोगी सिद्ध होंगे। वहीं डा0 मनीष वर्मा ने कहा कि यह गर्व का विषय है कि दोनों संस्थाएं चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में साथ कम रही हैं। हम विश्वविद्यालय के कर्मचारियों एवं छात्रों को रियायती दरों पर चिकित्सा सुविधा भी उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत हैं। हेल्थ साइंसेस के निदेशक डा0 दिग्विजय शर्मा एवं सह निदेशक डा0 मुनीश रस्तोगी ने कहा कि यह एम.ओ.यू स्नातक एवं परास्नातक छात्रों के लिए किया जा रहा है जो कि उनकी रिसर्च एवं क्लीनिकल एक्सपोजर में लाभदायी साबित होगा। कार्यक्रम में डा0 राजीव मिश्रा, डा0 पी0के0 यादव, डा0 प्रवीन कटियार, चन्द्रशेखर कुमार, डा0 कौशलेन्द्र कुमार पाण्डेय, आदर्श कुमार श्रीवास्तव, हिना वैश, फार्चून हास्पिटल से डा0 रश्मि रस्तोगी, निवेन्दु शुक्ला, आशीष अग्निहोत्री उपस्थित रहे।