सॉल्वर गैंग में सीआरपीएफ का सिपाही भी शामिल, एसटीएफ तलाश में

 
Ch vi i

कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की जीडी कांस्टेबल परीक्षा में सेंधमारी करने वाले गिरोह को लेकर अहम तथ्य उजागर हुआ है। गिरोह में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीआरपीएफ) में तैनात सिपाही भी शामिल है।

वह यूपी पुलिस के सिपाही अच्युतानंद के गिरोह के साथ मिलकर परीक्षाओं में सेंधमारी करता था। उसकी मुख्य भूमिका पूर्वांचल के जिलों से अभ्यर्थी व सॉल्वर जुटाना था। एक तरह से वह पूर्वांचल का सरगना बनकर काम कर था। फिलहाल उसे एसटीएफ तलाश कर रही है।

प्रदेश के 13 जिलों में दस जनवरी से जीडी कांस्टेबल की परीक्षा 61 केंद्रों पर ऑनलाइन चल रही है। बीते मंगलवार को एसटीएफ ने कुर्सी रोड टेढ़ी पुलिया स्थित सिन्को लर्निंग परीक्षा केंद्र से तीन सॉल्वर व तीन अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया था। इनसे मिली जानकारी के आधार पर गिरोह के सरगना यूपी पुलिस के सिपाही अच्युतानंद यादव को अयोध्या से दबोचा गया था।

एसटीएफ सीओ लाल प्रताप सिंह ने बताया कि अभी प्रयागराज निवासी सलमान, अमित व सुनील की तलाश है। जानकारी मिली है आरोपी सलमान सीआरपीएफ में सिपाही है। इसका सत्यापन किया जा रहा है। अच्युतानंद व सलमान मुख्य रूप से गिरोह का संचालन कर रहे थे।