दुकानदार की माली हालत देखकर चोरों का दिल पसीजा

 माफीनामे के साथ वापस लौटाया एक-एक सामान

 
सामान
दुकानदार, बांदा, दिनेश तिवारी

घटना बांदा के बिसंडा थाना इलाके की है। यहां चंद्रायल गांव में रहने वाले दिनेश तिवारी की आर्थिक हालत काफी खराब है। कुछ समय पहले ही उन्होंने 40 हजार रुपये का कर्ज लेकर वेल्डिंग का काम डाला था। 20 दिसंबर को रोजाना की तरह जब वह अपनी दुकान पहुंचे तो ताला टूटा मिला और औजार समेत अन्य सामान गायब था। उन्होंने बिसंडा थाने में घटना की सूचना दी।
 

दिनेश ने देखा कि एक बोरी में उसका सामान रखा हुआ और उसके ऊपर एक कागज भी चिपका हुआ था। लेटर में लिखा था, 'यह दिनेश तिवारी का सामान है। हमें बाहरी आदमी से आपके बारे में जानकारी हुई। हम सिर्फ उसे जानते हैं जिसने लोकेशन (सूचना) दी कि वह (दिनेश तिवारी) कोई मामूली आदमी नहीं है। पर जब हमें जानकारी हुई तो हमें बहुत दुख हुआ इसलिए हम आपका सामान वापस देते हैं। गलत लोकेशन की वजह से हमसे गलती हुई।'

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, वापस सामान मिलने की खुशी पर दिनेश तिवारी ने कहा, 'मेरी वेल्डिंग की दुकान में 20 दिसंबर को चोरी हो गई थी, जब मैं उस दिन वहां पहुंचा तो चोर वहां से 2 वेल्डिंग मशीन, 1 कांटा (तौलने वाला), 1 बड़ी कटर मशीन, 1 ग्लेंडर और 1 ड्रिल मशीन कुल 6 सामान चोरी कर ले गए थे।'