कलेक्टर को चैलेंज करने वाली गर्ल का एक और वीडियो हुआ वायरल

कलेक्टर को चैलेंज कर हुई थी फेमस
 
झाबुआ
झाबुआ

पिछले दिनों एनएसयूआई संगठन द्वारा कलेक्टोरेट परिसर में विद्यार्थियों व कॉलेज की समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा गया था। इस दौरान एक छात्रा निर्मला चौहान का वीडियो जबरदस्त वायरल हुआ था। वीडियो में छात्रा ज्ञापन लेने कोई अधिकारी नहीं आने पर अपनी पीड़ा बता रही थी। साथ ही वह एक दिन का कलेक्टर बनाने को लेकर कह रही थी। उसी छात्रा का दूसरा वीडियो वायरल हुआ है।

पहला वीडियो वायरल होते ही निर्मला को जिले के साथ ही दूर-दूर तक पहचान मिल गई थी। एनएसयूआई ने तो उसे जिला महामंत्री का पद देकर पद से नवाजा था। यह वीडियो दूर-दूर तक देखा गया था। अब दूसरा वीडियो वायरल होते ही निर्मला एक बार फिर चर्चाओं में है। शहर के इमली तीराहे के समीप एक किराना दुकान पर वह सामान खरीद रही है। पीछे खड़ी एक लड़की व्यापारी की आंख बचाकर बॉडीलोशन के डिब्बियों से भरा पैकेट लेकर जाती हुई दिखाई दे रही है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है।

झाबुआ कलेक्ट्रेट में कलेक्टर को चैलेंज करके मशहूर हुईं लड़की निर्मला का एक वीडियो सामने आया है जहां वह और उसके साथ एक और लड़की किराना दुकान पर चोरी करते हुए दिख रहे हैं। इस वीडियो में निर्मला के साथ आई लड़की दुकान से चॉकलेट का डिब्बा चोरी करते हुए दिख रही है। यह पूरी घटना दुकान में लगे हुए सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। वहीं दुकानदार ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी सीसीटीवी कैमरे में वीडियो देखने के बाद ही हुई।दुकानदार ने व्हाट्सअप ऐप पर वीडियो शेयर कर व्यापारियों को सतर्क रहने को कहा है पर थाने में अभी कोई शिकायत नहीं की है। उन्होंने यह भी कहा कि लड़कियां पढ़ने-लिखने वाली हैं उन्हें कम से कम ऐसा काम नहीं करना चाहिए।

निर्माला आलीराजपुर जिले के खंडाला‎ खुशाल गांव की है। निर्मला आदिवासी किसान परिवार से ताल्लुक रखती है। वह 7 भाई-बहन हैं। उसका सपना आर्मी में जाने का है। निर्माला का कहना है कि पिता खेती करते हैं और‎ परिवार गरीब है। इतना कि मेरे‎ पास मोबाइल तक नहीं है। इसी‎ साल बीए फर्स्ट इयर में गर्ल्स‎ कॉलेज झाबुआ में प्रवेश लिया।‎ मुझे सच बोलना शुरू से पसंद‎ है। पूरी कोशिश करती हूं और‎ हमेशा सोचती हूं कि अपनी बात‎ को कैसे रखूं। दिमाग में हर समय‎ यही चलता है। मुझमें व्यवस्था‎ को लेकर पहले से गुस्सा है,‎ लेकिन पहले कम था, अब बढ़‎ रहा है।

किराना व्यापारी सिरीश शाह का कहना है कि पिछले दिनों एक लड़की सामान लेने आई थी और वह बॉडीलोशन से भरा पैकेट लेकर चली गई। यह पैकेट 1 हजार 200 रूपए का था। उनके द्वारा यह वीडियो इसलिए व्हाट्अप पर डाला गया। ताकि अन्य व्यापारी सावधान हो जाएं। वे निर्मला चौहान को नहीं जानते। वीडियो डालने का उद्देश्य अन्य लोगों में सावधानी रखने को लेकर था।
इस संबंध में निर्मला चौहान का कहना है कि सामान चोरी करने वाली लड़की उसके पीछे खडी थी। वह उसे नहीं जानती है और न ही इस प्रकार के कार्य में वह रूची रखती है। उसे बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है। वह तो दुकान से सामान लेकर चली गई थी।