यादव समाज ने उज्जैन पुलिस कप्तान को प्रकरण पंजीबद्ध करने के लिए ज्ञापन दिया

 
mp

पिछले हफ्ते कांग्रेस नेता संजय यादव के पुत्र रजत यादव की मौत हो गई थी जिसमें बताया गया था लड़के ने सल्फास खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली लेकिन मामले को देखते हुए बताया जाता है की लड़के और लड़की ने साथ में जहर खाया लेकिन दोनों के शहर में जमीन आसमान का फर्क आया इससे स्पष्ट है कांग्रेसी नेता संजय यादव के पुत्र की साजिश के तहत हत्या की गई है।


जब लड़के और लड़की ने मिलकर जहर खाया तो एक का जहर सल्फास के रूप में सामने आया और दूसरे का जहर नींद की गोलियों के रूप में सामने आया इससे स्पष्ट हो जाता है लड़की के परिवार और लड़की ने मिलकर कांग्रेसी नेता संजय यादव के पुत्र रजत यादव की खिचड़ी या दलिया में मिलाकर जहर दिया गया।
आज यादव समाज के कई वरिष्ठ जन और जनप्रतिनिधि उज्जैन पुलिस कप्तान सत्येंद्र कुमार शुक्ला के पास पहुंचकर ज्ञापन देकर निष्पक्ष जांच की मांग की है और दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की मांग की है इधर उज्जैन पुलिस कप्तान सत्येंद्र कुमार शुक्ला द्वारा इस पूरे मामले की जांच के लिए एक टीम गठित कर दी गई है जिसमें आईपीएस अफसर डॉ विनोद मीणा और एक महिला सब इंस्पेक्टर के साथ तीन अन्य 5 सदस्यों की टीम गठित की है और पूरे मामले की जांच निष्पक्ष करने का निर्देश दिया है बताया जाता है लड़के लड़की ने जहर साथ में खाया तो फिर लड़की जिंदा क्यों इसका कारण नींद की गोलियां लड़की ने खा ली और उसके फ्रेंड रजत यादव को अपने अन्य परिवार के साथ मिलकर जहर दे दिया इस प्रकार की खबर सामने आ रही है अब पुलिस इन्वेस्टिगेशन पता चलेगा आखिर मामला कहां तक सही है।
जब यादव समाज के पदाधिकारी उज्जैन पुलिस कप्तान को ज्ञापन देने पहुंचे उस समय उनके साथ कांग्रेश पार्षद रवि राय भी समर्थन करने पहुंचे।