ममता को एक और बड़ा झटका

ममता को एक और बड़ा झटका

पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव  2021  की लड़ाई में ममता बनर्जी के ‘अपने’ लगातार उन्हें छोड़कर बीजेपी में शामिल हो रहे हैं। तृणमूल कांग्रेस  के वरिष्ठ सांसद शिशिर अधिकारी का नाम भी इस कड़ी में जुड़ने जा रहा है। सांसद शिशिर अधिकारी ने कहा है कि यदि वह 20 मार्च को कांठी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की जनसभा में शामिल होंगे।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की पूर्व मेदिनीपुर जिले के एगरा में चुनावी रैली के दौरान शिशिर अधिकारी भगवा दल में अनौपचारिक रूप से शामिल हुए। इससे पहले पूर्व तृणमूल नेता सुवेंदु अधिकारी भी अमित शाह की ही मौजूदगी में पिछले साल 19 दिसंबर को मेदनीपुर में आयोजित रैली के दौरान भाजपा का झंडा थामा था। वहीं, अब उनके पिता ने भी भाजपा का दामन थाम लिया है। बता दें कि वरिष्ठ नेता शिशिर अधिकारी पूर्व मेदिनीपुर के कांथी से सांसद हैं।

सुवेंदु के भाजपा में शामिल होने के बाद से ही उनके उनके भगवा दल में शामिल होने की लगातार अटकलें थी। वहीं, शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल होने से पहले अपने संबोधन में शिशिर अधिकारी ने तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल चुनाव उनके आत्मसम्मान की लड़ाई है। पूर्व मेदिनीपुर की इज्जत बचाने की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि इस बार बंगाल में भाजपा की जीत होगी और तृणमूल का सफाया होगा।बता दें कि पूर्व मेदिनीपुर सहित आसपास के जिलों में अधिकारी परिवार का खासा प्रभाव है।

शिशिर अधिकारी के भाजपा में शामिल होते ही ममता ने फिर बताया गद्दार

इधर, शिशिर अधिकारी के अमित शाह की सभा में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने करारा हमला बोलते हुए अधिकारी परिवार को फिर गद्दार बताया। पूर्व मेदिनीपुर जिले में ही रैली को संबोधित करते हुए ममता ने कहा कि करोड़ों-करोड़ों लूटने वाले गद्दार सब पार्टी छोड़ कर चले गए हैं। यह अच्छा ही हुआ।