35 वर्षीय युवक की हुई मौत परिजनों में छाया कोहराम

 
mp

ऊँचेहरा थाना क्षेत्रान्तर्गत ग्राम बिहटा में 35 वर्षीय राकेश कोल पिता गोविंद कोल की शनिवार की शाम मौत हो गई । मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो पाया पीएम रिपोर्टर आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पायेगा ।

वहीँ परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार म्रतक अपने ससुराल माधवगढ़ से अपनी बीबी को लेकर शनिवार की दोपहर बाइक में सवार होकर अपने गाँव बिहटा आया तब बिल्कुल स्वस्थ्य था घर पहुचने के कुछ देर बाद अचानक तबियत बिगड़ती देख मृतक की पत्नी गाँव के ही झोला छाप डॉक्टर रामराज कुशवाहा के पास लेकर पहुची और इलाज कराया तब भी मृतक की तबीयत में कोई सुधार नही आया तब परिजनों के द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ऊँचेहरा लाया गया जहाँ डॉक्टर ने नब्ज टटोलते ही म्रत घोषित कर दिया। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई सूचना पाते ही पहुँची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेते हुए शव को मर्चुरी में रखबा दिया । बात इतने में भी नही बनी ड्यूटी डॉक्टर ने मानवता को किया शर्मसार मृतक के परिजन शव लेने के लिए रविवार को सुबह 6 बजे ऊँचेहरा पहुँच गए लेकिन डियूटी डॉक्टर ने मानवता को शर्मसार करने में कोई कसर नहीं छोड़ी तीन घंटे बीत जाने के बाद भी डॉक्टर अपने रूम से बाहर नही निकला जिसकी सूचना मोबाइल के माध्यम से बीएमओ साहब को दी गई । तब बीएमओ साहब ने फोन लगा कर संपर्क साधाना चाहा लेकिन अपने सीनियर अधिकारी का भी फोन रिसीव नही किया। और ना ही अपने कमरे से बाहर आया यहां गरीब आदिवासीयों के सब्र का बांध टूट चुका था और हंगामे जैसे स्थिति निर्मित हो ही गई थी । लेकिन बीएमओ साहब की तत्परता से मैहर से डॉक्टर को बुलाकर मृतक का पोस्टमार्टम कराया और शव को परिजनों को सुपुर्द कर दिया। मामले की जाँच पुलिस कर रही है।