स्वच्छ भारत की उड़ी धज्जियां नदी का पानी पीने से मुख्यमंत्री की हालत हुई गंभीर

 
Hfj

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान पेट दर्द की शिकायत के चलते दिल्ली के अपोलो अस्पताल में भर्ती हैं। इस बीच उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह प्रदूषित पानी पीते दिखाई दे रहे हैं। ऐसे में इस बात की चर्चाएं भी शुरू हो गई हैं कि क्या इस जल को पीने से उनके पेट में दर्द शुरू हो गया। आम आदमी पार्टी की पंजाब यूनिट की ओर से शेयर किए गए वीडियो में भगवंत मान एक नदी से गिलास में पानी भरकर पीते हुए दिखाई दे रहे हैं। पंजाब यूनिट की ओर से शेयर किए गए वीडियो के कैप्शन में पंजाबी में लिखा गया था, 'मुख्यमंत्री ने सुल्तानपुर लोधी में पवित्र जल पीते हुए गुरु नानक साहिब की भूमि को नमन किया। भगवंत मान और राज्य सभा सदस्य संत सिचेवाल जी ने पवित्र स्थान की सफाई का बीड़ा उठाया है।'

यह वीडियो 17 को जुलाई को ट्वीट किया गया था। पर्यावरणविद और राज्यसभा सांसद बलबीर सिंह सीचेवाल ने चीफ मिनिस्टर को काली बेईं नदी के सफाई अभियान में बुलाया था। इसी दौरान भगवंत मान ने एक गिलास पानी पी लिया था। इस पानी में आसपास के कस्बों और गांवों के सीवेज का पानी भी मिला रहता है। उसे बिना हिचक के भगवंत मान ने पी लिया था। इसके कुछ दिन बाद ही उन्हें दिल्ली के अपोलो अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। हालांकि आम आदमी पार्टी या फिर पंजाब सीएमओ की ओर से इसे लेकर कोई बयान जारी नहीं किया गया है।

भगवंत मान के एडमिट होने को लेकर शुरुआत में खबर आई थी कि वह रुटीन चेकअप के लिए एडमिट हुए हैं। हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में यह बात भी सामने आई कि वह पेट में दर्द की शिकायत की वजह से अस्पताल में भर्ती हुए हैं। बता दें कि संत बलबीर सिंह सीचेवाल नदियों, तालाबों समेत जलाशयों से प्रदूषण को खत्म करने के लिए अभियान चलाते रहे हैं। पंजाब में बहने वाली काली बेईं नदी की सफाई के लिए भी वह अभियान चलाते रहे हैं। इसी सिलसिले में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्हें सीएम भगवंत मान को बुलाया था और वहां जल पीने के चलते ही उनके बीमार होने के कयास लगाए जा रहे हैं।