वर्ष 2021से अधूरा पड़ा तालाब का जीर्णोद्धार कार्य ,बून्द बून्द पानी के लिए परेशान ग्रामीण

 
m

best kitchen products click nowशाहनगर जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत रामपुर खजुरी में पुराना तालाब जीर्णोद्धार कार्य को लेकर ग्रामीणों का कहना हैँ की हमारी ग्राम पचांयत मै 2021मै पुराना तालाब के लिए 9.98 लाख की राशि स्वीकृत हुई थी. जिससे तालाब का गहरी करन एवं मरम्मत कराई जानी थी. जो की आज तक पूर्ण नहीं कराया गया हैँ. वही पचांयत के द्वारा कफ किसानो क़ो बेचीं जा रही हैँ. एवं पूर्व मै भी मछली पचांयत के द्वारा लाखो रूपये की बेचीं जा चुकी हैँ. अब सवाल यह उठता की यदि यह आरोप सत्य हैँ तो पचांयत साफ साफ दोसी नज़र आ रही हैँ.वही जीर्णोद्धार कार्य के लिए जून 2021 में तालाब का पानी निकाल दिया गया था। लेकिन पंचायत प्रशासन की नाकामियों के चलते आज तक काम चालू नहीं हो सका। इस और पचांयत एवं जिम्मेदार अधिकारियो क़ो ध्यान देना चाहिए.


रोजगार सहायक मुकेश तिवारी का कहना हैँ की यह कार्य पिछले सत्र 2021 मै स्वीकृत हुआ था. परन्तु कार्य की स्वीकृति जून माह मै मिलने के कारण बरसात नजदीक होने के कारण कार्य पूरा नहीं हो सका था. पिछले सत्र मै करीब 2 लाख 88 हजार के लगभग काम कराया गया था. इसके बाद इस वर्ष कुछ काम हुआ था जिसमे टूटी हुई मेड बनाई गई थी. इसके बाद मजदूर कटाई करने एवं शादिया मै व्यष्ट गो गए. उक्त कार्य क़ो 16 मई के बाद पुनः कराया जायेगा. किसान कफ उठा रहे हैँ उसमे पचायत का कोई रोल नहीं हैँ. बैसे भी यह तालाब गॉव का एक प्रसिद्ध देविक स्थल हैँ. यहाँ पर किसी तरह की लापरवाही नहीं की जाएगी
शाह नगर जनपद सी ई ओ प्रदीप सिंह का कहना हैं की यह मामला संज्ञान मै बिलकुल है इस कार्य क़ो जल्द से प्रारम्भ कराया जायेगा जिसमे बेस्टबेयर सहित मेड क़ो मजबूत कराया जायेगा ताकि वारिस के पानी क़ो रोका जा सके.यह कार्य 15 जून तक पूर्ण भी करवा दिया जायेगा.