विश्व पर्यावरण दिवस पर लगाए पौधे लिया क्षेत्र को हरा-भरा बनाने का संकल्प

 
सज

रविवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर जिले की आदर्श शिक्षिका ललिता सिसोदिया द्वारा माध्यमिक विधालय गरनाई एवं चौबीसा मगरा गौशाला धाम ,काल भैरव मंदिर स्कूल छात्रावास सहित जगह जगह पौधारोपण किया गया। जिसमें छायादार पौधे अशोक ,पीपल ,नीम,आंवला, जामुन ,सीसम ,कनेर ,गुलमोहर तथा कई अन्य प्रकार के पौधे लगाए तथा क्षेत्र को हरा भरा बनाने के लिए संकल्प भी लिया गया। जो पर्यावरण बचाने के लिए एक सराहनीय पहल है। शिक्षिका ललीता सिसोदिया ने कहा कि हरियाली है तो खुशहाली है जान है तो जहान है विश्व पर्यावरण दिवस पर हम सब संकल्प ले ताकि यह क्षेत्र फिर से हरा भरा बन सके उन्होंने कहा कि अगर हर इंसान के अंदर पौधे लगाने की ललकता हो जाये तो यह प्रदेश प्रदेश ही क्या पूरा देश हरा-भरा बनाया जा सकता है।


यदि पृथ्वी पर पर्याप्त संख्या में पेड़ होते हैं तो वर्षा भी अच्छी होती हैं जिसके कारण भूमि का जलस्तर भी बडेगा ओर पेड़ पोधे भूमि का कटाव रोकने में भी सहायक होते हैं क्योंकि पेड़ पौधे हमें ऑक्सीजन भी देते हैं जिसके कारण पृथ्वी पर पर्यावरण संतुलन बना रहता है ।अतः सभी को प्रेरणा लेकर एवं स्वप्रेरणा से प्रतिवर्ष पौधे लगाने चाहिए एवं उनकी देखरेख भी करना चाहिए ताकि पृथ्वी हरी भरी रहेगी तो मानव जीवन संतुलन में रहेगा एवं किसी भी प्रकार की अनावश्यक होने वाली आपदाओं से बचे रहेंगे। श्री मती सिसोदिया ने यहां भी कहा कि यह हरे भरे पेड़ पौधे हमारे अभिन्न अंग है मनुष्य का एक भी पल इनके बगैर नहीं रह सकता प्रकृति के बिना मानव जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। जल थल वायु अग्नि आकाश इन्हीं पंचतत्व से मानव शरीर का निर्माण हुआ है और जीवन समाप्त होने पर वह इन्हीं पंचतत्व में विलीन हो जाता है।इस अवसर पर समाज सेवी प्रभात पाराशर गरनाई नगर अध्यक्ष नारायण दास बेरागी,गोशाला आक्या बिका के गोरक्षक भागिरथ पाटीदार, श्याम शर्मा, रोडीलाल डागीं गोधाम के व्यवस्थापक बाबुलाल पाटीदार भी उपस्थित थे।