दिल्ली को पहली बार मिली 700 टन ऑक्सीजन

दिल्ली को पहली बार मिली 700 टन ऑक्सीजन

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच ऑक्सीजन को लेकर जबरदस्त सियासत देखने को मिल रही हैइस एक मुद्दे पर दिल्ली सरकार और केंद्र को कोर्ट से फटकार पड़ी हैदोनों पर ही लापरवाही बरतने और समय रहते कोई समाधान ना ढूंढने के आरोप लगे हैं। अब कोर्ट की फटकार के बाद दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा भी बढ़ाया गया है और बुधवार को पहली बार 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन भी दी गई है। इसको लेकर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी का आभार जताया है। केजरीवाल ने पीएम को लिखी चिट्ठी में कहा है कि दिल्ली की खपत 700 टन प्रतिदिन है। हम लगातार केंद्र सरकार से प्रार्थना कर रहे थे कि इतनी ऑक्सिजन हमें दी जाए। कल पहली बार दिल्ली को 730 टन ऑक्सीजन मिली है मैं दिल्ली के लोगों की तरफ से दिल से आपका आभार व्यक्त करता हूं। आपसे निवेदन है कि कम से कम इतनी ऑक्सीजन दिल्ली को रोज जरूर दिलवाई जाए और इसमें कोई कटौती ना की जाए। पूरी दिल्ली इसके लिए आपकी आभारी रहेगी।'

दिल्ली में ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ने के बाद सीएम ने अस्पताल वालों से कहा है कि अब वह अपने यहां बेड की संख्या बढ़ सकते हैं, क्योंकि अभी तक यह हाल था कि अस्पतालों में बेड तो ज्यादा थे मगर ऑक्सीजन की सप्लाई कम थी। इसके कारण दिल्ली के कई अस्पतालों में अपने यहां बेड की संख्या कम कर दी थी। जिससे मरीजों को परेशानी ज्यादा हो रही थी। सीएम ने कहा कि अगर हमें 700 टन प्रतिदिन आक्सीजन मिलती रही तो हम 9000 बेड और बढ़ा देंगे। वैक्सीन के मुद्दे पर केजरीवाल ने कहा कि जब से 18 से 44 साल वालाें का वैक्सीनेशन खोला है। युवा आगे आ रहे हैं। वैक्सीन लगवा रहे हैं। अभी तक 35 लाख 74 हजार डोज दी गई है। 28 लाख ने पहली और 7 लाख को दूसरी डोज मिली है। पिछले तीन दिन में 18 से ऊपर वालों को एक लाख 30 हजार को वैक्सीन लगी है। वैक्सीन की कमी सामने आ रही है।