अब शराब की होगी होम डिलिवरी, इतने साल की उम्र के युवाओं को शराब पीने और खरीदने की मिलेगी छूट

अब शराब की होगी होम डिलिवरी, इतने साल की उम्र के युवाओं को शराब पीने और खरीदने की मिलेगी छूट

दिल्ली में शराब की होम डिलीवरी योजना को आम आदमी पार्टी सरकार की मंजूरी मिल गई है। कुछ दिन पहले ही दिल्ली के आबकारी विभाग ने अरविंद केजरीवाल सरकार के पास इस बाबत प्रस्ताव भेजा था। मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली सरकार ने मोबाइल फोन ऐप और वेबसाइट के जरिये ही शराब की होम डिलीवरी को मंजूरी दी है। ऑर्डर मोबाइल ऐप या ऑनलाइन वेब पोर्टल के जरिए करना होगा, इसके बाद शराब की होम डिलीवरी होगी। 

ताजा जानकारी के मुताबिक, दिल्ली सरकार ने उपराज्यपाल की अनुमति पर ही नई आबकारी नीति को मंजूरी दी है। इसके लागू होने पर शराब की होम डिलीवरी हो सकेगी। इसी के साथ शराब बेचने का काम पूरी तरह से निजी हाथों में होगा। इसके साथ ही 21 साल की उम्र के युवाओं को भी शराब पीने और खरीदने की छूट होगी।

गौरतलब है कि दिल्ली में व्यापार और कर के बाद आबकारी कर ही राज्य सरकार की आय बढ़ाने का मुख्य जरिया है। सरकार को आबकारी कर से एक साल में 5 हजार करोड़ के करीब राजस्व मिलता है। ऐसे में शराब की होम डिलीवरी की मंजरी दी गई है। 

दिल्ली में शराब की बिक्री बंद होने से दिल्ली में इसकी तस्करी और बढ़ जाती है। पिछले साल लगाए गए लाॅकडाउन में दूसरे राज्यों की अवैध शराब तो पकड़ी ही गई थी। ऐसे में शराब की अवैध तस्करी पर लगाम लगेगी।

बता दें कि आबकारी (संशोधन) नियम, 2021 के अनुसार एल-13 लाइसेंस धारकों को लोगों के घर तक शराब पहुंचाने की अनुमति होगी थी। अब दिल्ली सरकार की ओर से जारी नोटीफिकेशन में कहा गया है कि लाइसेंस धारक केवल मोबाइल ऐप या ऑनलाइन वेब पोर्टल के माध्यम से ही घरों में शराब की डिलीवरी कर सकेंगे। 

कोरोना काल में शराब की होम डिलीवरी या आनलाइन डिलीवरी को बेहतर माना जा रहा है। कोराना काल में मुंबई में यह सुविधा वहां की सरकार ने शुरू की है। जिसमें सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक हाेम डिलीवरी की सुविधा है। जिसमें अतिरिक्त शुल्क लेकर शराब की होम डिलीवरी की जाती है।