संविधान को साक्षी मानकर किया विवाह

 
mp

संविधान को साक्षी मानकर इंजी .सुधीर व करिश्मा जायसवाल ने किया विवाह

मानपुर तहसील के ग्राम पंचायत टिकुरी के निवासी कांट्रेक्टर एवं वरिष्ठ समाजसेवी सुशील जायसवाल के सुपुत्र इंजीनियर सुधीर जायसवाल व ग्राम पंचायत सुखदास निवासी सुरेश जयसवाल की सुपुत्री करिश्मा ने अपना विवाह संविधान को साक्षी मानकर संपन्न कराया। इस अवसर पर उपस्थित लोगों ने जब सुधीर जायसवाल से यह जानना चाहा कि आपने ऐसा कार्य क्यों किया तो उन्होंने बड़े सादगी पूर्ण जवाब देते हुए बताया कि भारतीय संविधान ही भारत का सबसे बड़ा पवित्र ग्रंथ है और हमें किसी प्रकार के आडंबर न फंसे इसलिए अपने भारतीय का संविधान का सम्मान करते हुए हमने विवाह जैसे पवित्र कार्य करने का यह उचित तरीका समझा वही बीएससी नर्सिंग की पढ़ाई कंप्लीट कर चुकी, वधु के रूप अपनी दांपत्य जीवन की शुरुआत कर रही करिश्मा ने भी इस पवित्र कार्य पर अपनी पूरी सहमति जताई

वही दोनों दोनों पक्षों के माता पिता सहित अन्य पारिवारिक जनों ने बरही क्षेत्र में इस नई शुरुआत के लिए मंगल शुभकामनाएं प्रेषित की जिसमें परम पूज्य भिक्षु संघ से भंते बोधी रत्न पन्ना, भंते रजनी रंजन कोठी सतना, बौद्ध आचार्य सत्यशील चाचू जी बाणसागर, आर. यस जायसवाल कामता प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष कलचुरी महासभा, एडवोकेट आर एस जयसवाल उमरिया, हीरालाल जायसवाल उपभोक्ता संरक्षण तहसील अध्यक्ष बरही,मोहम्मद ताज बिल्डिंग, मोहम्मद नजीर सचिव, सत्यदेव त्रिपाठी सचिव,राजा मुन्ना सिंह सरपंच ग्राम पंचायत सुखदास, एडवोकेट मुनीम पटेल उमरिया, केशव वर्मा बसपा जिला अध्यक्ष उमरिया, रामकेश राय जिला अध्यक्ष सपाक्स उमरिया, नत्थू लाल पटेल पूर्व सरपंच, रामसरोवर जयसवाल उमरिया आदि सैकड़ों की संख्या में में गणमान्य जन व रिश्तेदारों की मौजूदगी रही।