मुस्लिम युवक ने हिंदू बनकर लिए सात फेरे, शादी के बाद मौलाना से कराया रेप।

 
Mp

ग्वालियर जिले के डबरा में लव जिहाद का मामला सामने आया है। यहां एक मुस्लिम युवक ने हिंदू बनकर युवती से शादी की। शादी के बाद युवक ने महिला पर धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया। इसे सात महीने तक ससुराल वालों ने बंधक बनाकर रखा।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में लव जिहाद का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार जिले की डबरा तहसील के जंगीपुरा में एक मुस्लिम युवक ने हिंदू बनकर 26 वर्षीय हिंदू युवती से मंदिर में शादी की बाद में उस पर इस्लाम कबूल कराने के लिए दबाव बनाया गया, वहीं धर्म परिवर्तन के लिए मौलाना ने महिला के साथ रेप किया। शादी के बाद मुस्लिम परिवार ने महिला को करीब 7 महीने तक घर में कैद कर के रखा था। इस दौरान महिला के दो देवरों और अन्य दो लोगों ने भी उसके साथ रेप किया। किसी तरह घर से भागकर शनिवार को महिला अपने घर पहुंची और थाने में शिकायत दर्ज कराई।  

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसके पति इमरान ने राजू जाटव बनकर उससे दोस्ती की थी। बाद में शीतला माता मंदिर में आरोपी ने हिंदू रीति रिवाज से उसके साथ शादी की थी। शादी के बाद महिला को राजू के मुस्लिम होने की जानकारी लगी, जिसके बाद आरोपी राजू उर्फ इमरान ने महिला पर इस्लाम कबूल करने के लिए दबाव बनाया। महिला ने मौलाना ओसामा पर रेप का आरोप लगाया है। महिला ने पुलिस को बताया कि मौलाना ने धर्म परिवर्तन कराने के बाद उसका इमरान से  निकाह कराया और निकाह वाली रात ही उसके साथ दुष्कर्म किया। 

महिला ने ससुराल पक्ष पर निकाह के बाद से मारपीट करने और बंधक बनाकर रखने का आरोप लगाया है। वहीं, सास की मौजूदगी में महिला के दोनों देवरों पुन्नी व अमन ने भी उसके साथ रेप किया। महिला का आरोप है कि उसके ससुराल वाले उसका अलग-अलग लोगों से रेप कराते थे। महिला के देवरों, मौलाना  के अलावा दो अन्य लोगों पर भी महिला ने रेप का आरोप लगाया है। 

पीड़िता की शिकायत पर महिला थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम, दुष्कर्म व बंधक बनाकर प्रताड़ित करने का मामला दर्ज किया है। डबरा पुलिस ने मुख्य आरोपी इमरान और उसकी मां सुग्गा बेगम को हिरासत में ले लिया गया है। महिला के दोनों देवर अमन और पुन्नी फरार है जिनकी तलाश शुरू कर दी है।

कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर किया रेप
पीड़िता ने अपनी आपबीती सुनाते हुए बताया कि राजू जाटव से उसकी मुलाकात जनवरी 2021 में हुई थी। राजू ने खुद को जंगीपुरा मदरसे के पास डबरा का रहने वाला बताया था। 15 जून को राजू गाड़ी से डबरा ले गया, जहां कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर उसके साथ गलत काम किया। जब वह गर्भवती हो गई तो राजू की मां ने शादी कराने की बात कही और कहा कि शादी के पहले बच्चा पैदा होगा तो घरवालों की बदनामी होगी। यह कहकर आरोपियों ने महिला का गर्भपात करा दिया।

शादी के बाद पता चली सच्चाई
राजू उर्फ इमरान ने महिला से 18 सितंबर को शीतला माता मंदिर में शादी की थी। शादी के बाद सिटी सेंटर स्थित एक होटल में पार्टी दी। बाद में  राजू उसे घरवालों से मिलाने ले गया। जहां महिला को उसके मुस्लिम होने का पता चला। उसके बाद आरोपी ने मौलाना ओसामा को घर बुलाया। मौलाना ने इमरान से कहा कि शादी मान्य नहीं है। तुम्हें पहले इस्लाम कबूल करना पड़ेगा और उसके बाद इमरान उर्फ राजू से निकाह करना पड़ेगा। युवती के घर से भाग जाने के चलते उसके माता-पिता ने उससे नाता तोड़ लिया था, मजबूरी में महिला ने इस्लाम कबूल कर लिया। निकाह कराने के बाद मौलाना ओसामा को इमरान युवती के कमरे में छोड़ गया। मौलाना ने उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके बाद उसके देवर अमन व पुन्नी ने भी उसके साथ गलत काम किया।