मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक्सप्रेस वाहन और 108 एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

 
mp

 प्रदेश में शनिवार रात 12 बजे से नए जननी एक्सप्रेस वाहन और 108 एंबुलेंस दौड़ने लगेंगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को यहां लाल परेड मैदान से इन वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इनमें 264 एंबुलेंस और 686 जननी एक्सप्रेस वाहन शामिल थे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि एंबुुलेंस शुरू तो हो गई हैं, लेकिन कर्मचारियों को नियमित वेतन मिलता रहे। हड़ताल के चलते वाहन ख्ाड़े नहीं होने चाहिए। पिछली बार हड़ताल के कारण हम खूब परेशान हुए थे।


उन्होंने इन वाहनों का संचालन करने वाली कंपनी जय अंबे इमरजेंसी सर्विसेस के मालिक धर्मेन्द्र सिंह को स्टेज पर बुलाकर कहा, 'मामा आज कल खतरनाक मूड में हैै वाहन खड़े हुए तो फिर समझ लेना
इस दौरान उन्होंने एंबुलेंस और जननी एक्सप्रेस बुलाने और वाहनों की स्थिति पता लगाने के लिए संजीवनी मोबाइल एप भी लांच किया। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री डा. प्रभुराम चौधरी और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भी मौजूद थे।
बता दें कि प्रदेश में एक मई से इन दोनों तरह के वाहन और स्वास्थ्य परामर्श सेवा 104 का संचालन जय अंबे कंपनी करेगी। इसके साथ ही सुविधाएं भी बढ़ाई गई हैं। अभी तक 606 एंबुलेंस चल रही थीं। अब 1002 हो जाएंगी। इनमें जीवन रक्षक उपकरणों वाली (एएलएस) 167 एंबुलेंस भी शामिल हैं, जो पहले 75 थीं। जननी एक्सप्रेस अभी 839 हैं जो बढ़कर 1050 हो जाएंगी। इनमें एक मई से 606 एंबुलेंस और 686 जननी एक्सप्रेस ही चलेंगी। बाकी वाहन एक से दो माह बाद दूसरे चरण में चलेंगे।
*नए वाहनों में यह सुविधाएं* ड्राइवर के सामने स्टैंड में टैबलेट लगा रहेगा। इससे लोकेशन देखकर वाहन जल्दी पहुंच सकेंगे।
जननी एक्सप्रेस में पहले छोटे वाहने चलते थे, लेकिन अब लगभग 108 एंबुलेंस के आकार के वाहन चलेंगे।
एएलएस एंबुलेंस में इस तरह के वेंटिलेटर लगाए गए हैं कि पावर बैकअप नहीं रहने पर भी चले जाएंगे