महामारी कोरोना… अब बस चंद दिनों की मेहमान: कोरोना का सबसे बुरा दौर खत्म होने वाला है।

महामारी कोरोना… अब बस चंद दिनों की मेहमान: कोरोना का सबसे बुरा दौर खत्म होने वाला है।

Public Route Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दुनियाभर में फैले पैनिक और लगातार बढ़ते आंकड़ों के बीच नोबेल विजेता वैज्ञानिक ने राहत देने वाला दावा किया है. वैज्ञानिक का दावा है कि विश्व में फैली महामारी कोरोना अब बस चंद दिनों की मेहमान है. दुनिया में फैला कोरोना का सबसे बुरा दौर खत्म होने वाला है. अब आने वाले दिनों में हालात सुधरते नजर आएंगे. नोबेल पुरस्कार से सम्मानित और स्टैनफोर्ड बायोफिजिसिस्ट माइकेल लेविट ने दावा किया है कि कोरोना जल्द खत्म हो जाएगा. माइकल वो ही वैज्ञानिक हैं, जिन्होंने चीन में कोरोना की स्थिति को लेकर सटीक भविष्यवाणी की थी. माइकेल ने 2013 में रसायन क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार जीता था. 

जल्द कंट्रोल हो जाएगी महामारी
लॉस एंजेल्स टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में माइकेल ने दावा किया कि दुनियाभर में कोरोना को लेकर पैनिक ज्यादा फैल गया है. हालात उतने भयावह नहीं जितनी आशंका जताई गई थी. अब अगर वैज्ञानिक की बात सही मानी जाए तो इस खौफ के माहौल में यह काफी राहत भरी खबर है. दरअसल, माइकेल का दावा इसलिए अहम माना जा रहा है क्योंकि, उन्होंने चीन में फैले कोरोना को कंट्रोल को लेकर सही समय का आकलन किया था. विश्वभर के एक्सपर्ट्स का मानना था कि चीन को कोरोना से निपटने में समय लगेगा. लेकिन, माइकेल ने कहा था कि नए मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है, जल्द ही इस पर कंट्रोल पा लिया जाएगा.

Loading...

चीन को लेकर की गई भविष्यवाणी थी सही
माइकेल लेविट के एक ब्लॉग के मुताबिक, उन्होंने चीन में पैदा हुए हालात को देखते हुए कहा था कि कोरोना के नए मामलों में गिरावट देखने को मिली है. मतलब आने वाले दिनों में कोरोना वायरस से होने वाली मौत की दर घटने लगेगी. माइकेल की भविष्यवाणी सही साबित हुई और चीन में मार्च के पहले हफ्ते से ही मरने वालों की संख्या में गिरावट आई. चीन की इकोनॉमी भी वापस पटरी पर लौटती दिख रही है. कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित चीन का हुबेई प्रांत भी दो महीने के लॉकडाउन के बाद अब खुलने वाला है.

Ads by Eonads
Loading...
Ads by Eonads
Loading...
Author Image
sankalp sachan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!