सपा का होल्डिंग वार, लिखा हमारे पास अखिलेश है और बीजेपी के पास इनकम टैक्स, सीबीआई और ईडी

छापेमारी से सियासत हुई गर्म
 
चुनाव
चुनाव, इलेक्शन 2022, अखिलेश यादव, बीजेपी

उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड के बीच समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबियों के यहां आयकर विभाग की छापेमारी से सियासत गर्म हो गई है। इस कार्रवाई पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने सवाल उठाए हैं और कहा कि भाजपा कांग्रेस की तरह बर्ताव कर रही है। यूपी का चुनाव होने जा रहा है यहां पर अभी आईटी टीम आई है अब ईडी वाले भी आएंगे। इस बीच लखनऊ में समाजवादी पार्टी कार्यालय के बाहर कार्यकर्ताओं ने भाजपा पर तंज कसते हुए एक होर्डिंग लगा दी है। जिसमें लिखा गया है 'हमारे पास अखिलेश हैं...भाजपा के पास इनकम टैक्स, सीबीआई और ईडी है।

समाजवादी पार्टी का कहना है कि आयकर विभाग की छापेमारी से पार्टी के कार्यकर्ताओं पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। जनता सपा के साथ है। आने वाले विधान सभा चुनाव में जनता भाजपा को इसका जवाब देगी। वहीं, सपा नेताओं के घर पर आयकर विभाग के छापे के बाद जुबानी जंग के साथ-साथ होर्डिंग वार भी शुरू हो गया है। सपा की छात्र सभा ने लखनऊ में पार्टी कार्यालय के बाहर भाजपा के खिलाफ एक होर्डिंग लगावाई है। होर्डिंग्स पर लिखा है कि हमारे पास अखिलेश है भाजपा के पास इनकम टैक्स, सीबीआई व ईडी हैं।

बता दें आयकर विभाग ने समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबियों के लखनऊ, मऊ, मैनपुरी, आगरा व बेंगलुरु स्थित ठिकानों पर छापेमारी की है। इनमें सपा के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय व अखिलेश यादव के पूर्व ओएसडी जैनेंद्र यादव के आवासों के अलावा आरसीएल ग्रुप के निदेशक मनोज यादव व लखनऊ के कारोबारी राहुल भसीन के ठिकाने भी शामिल हैं। अखिलेश यादव ने आयकर छापों को लेकर राज्य सरकार पर निशाना भी साधा है।

सप अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा का हार का डर जितना बढ़ता जाएगा, विपक्षियों पर छापों का दौर भी उतना बढ़ता जाएगा। फिर भी सपा का रथ व हर कार्यक्रम बदस्तूर चलता रहेगा। कहा है कि अब तो जनता पूरी तरह से भाजपा के खिलाफ विपक्ष के साथ खड़ी है। अब क्या बाइस के लिए भाजपा सरकार उप्र की बाइस करोड़ जनता के यहां छापे डालेगी।