कानपुर में पीएम मोदी पहले नॉन स्टॉप सफर, फिर मेट्रो को दिखाएंगे हरि झंडी। देखिये पीएम मोदी का पूरा प्रोटोकॉल।

 
मेट्रो

प्रधानमंत्री सभास्थल से बटन दबाने के बाद हरी झंडी दिखाएंगे। इसके बाद चालक मेट्रो ट्रेन को आगे बढ़ाएगा। यह मेट्रो ट्रेन बच्चों को आईआईटी से मोतीझील स्टेशन तक ले जाएगी। लोकार्पण के बाद यूपीएमआरसी के एमडी या डायरेक्टर सभास्थल पहुंचकर प्रधानमंत्री को एक कोच वाली मेट्रो ट्रेन का मॉडल भेंट करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 दिसंबर को मेट्रो ट्रेन में नॉन स्टॉप सफर करने के बाद निराला नगर स्थित सभास्थल से इसे ऑनलाइन हरी झंडी दिखाएंगे। पीएम मोदी के बाद स्कूली बच्चे मेट्रो ट्रेन में आईआईटी से मोतीझील स्टेशन तक सफर करेंगे।

प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री आईआईटी के दीक्षांत समारोह से दोपहर 12:05 से 12:10 बजे के बीच आईआईटी मेट्रो स्टेशन में पहुंचेंगे। यहां मेट्रो स्टेशन की पहली मंजिल पर प्रोजेक्ट की प्रदर्शनी लगाई गई है। इसमें 11 फोटोयुक्त पैनल हैं, जिनके माध्यम से यहां मेट्रो के शिलान्यास से लेकर अब तक का सफर प्रदर्शित किया गया है।

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन (यूपीएमआरसी) के एमडी कुमार केशव प्रधानमंत्री को यह प्रदर्शनी दिखाएंगे। यहां वह 20 मिनट रहेंगे। स्टेशन का निरीक्षण करते हुए पीएम दूसरी मंजिल पर स्थित प्लेटफार्म पर पहुंचेंगे। वहां से पहले यात्री के रूप में मेट्रो में बैठेंगे।

साथ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रहेंगे। अन्य मंत्रियों और कुछ अधिकारियों के भी ट्रेन में उनके साथ यात्रा करने की संभावना है। आईआईटी स्टेशन से रवाना होकर यह नॉन स्टॉप मेट्रो ट्रेन कल्याणपुर, एसपीएम, विश्वविद्यालय, गुुरुदेव स्टेशन को पार करते हुुए सीधे गीता नगर मेट्रो स्टेशन में रुकेगी।
पीएम करीब पांच मिनट मेट्रो ट्रेन में रहेंगे। गीता नगर मेट्रो स्टेशन से कार से सीएसए स्थित हैलीपैड पहुंचेंगे। वहां से हेलिकॉप्टर से निराला नगर रेलवे मैदान स्थित सभास्थल में जाएंगे। इस दौरान आईआईटी मेट्रो स्टेशन में शंकरपुर कटरी नत्थापुरवा स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय के 50. चिंटल्स स्कूल के 160 बच्चे और यूपीएमआरसी के अधिकारी मेट्रो ट्रेन में बैठेंगे।

प्लेटफार्म पर चालक के आगे स्क्रीन लगेगी, जिसमें सभास्थल का लाइव प्रसारण होगा। प्रधानमंत्री सभास्थल से बटन दबाने के बाद हरी झंडी दिखाएंगे। इसके बाद चालक मेट्रो ट्रेन को आगे बढ़ाएगा। यह मेट्रो ट्रेन बच्चों को आईआईटी से मोतीझील स्टेशन तक ले जाएगी। लोकार्पण के बाद यूपीएमआरसी के एमडी या डायरेक्टर सभास्थल पहुंचकर प्रधानमंत्री को एक कोच वाली मेट्रो ट्रेन का मॉडल भेंट करेंगे।