करविगवा गांव में गंदगी देख भड़के जिलाधिकारी आलोक तिवारी

करविगवा गांव में गंदगी देख भड़के जिलाधिकारी आलोक  तिवारी

*करबिगवां गांव में गंदगी देख भड़के जिलाधिकारी*

★करबिगवां गांव में फैली विचित्र बीमारी से अब तक हो चुकी है कई मौते।

★निरीक्षण करने पहुंचे जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी।

★डोर टू डोर कराई जाएगी लोगों की सैंपलिंग।

सरसौल। करबिगवा गांव में फैली विचित्र बीमारी का निरीक्षण करने करबिगवा गांव पहुंचे जिलाधिकारी ने गंदगी देखकर खासी नाराजगी जाहिर की कथा पूरे गांव में स्वच्छता अभियान चलाने के निर्देश दिए।
रविवार को जिलाधिकारी कानपुर नगर तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा तहसील नर्वल के करविगवा गांव का निरीक्षण किया गया तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाते हुए चौपाल लगाकर  ग्रामीणों की समस्याएं सुनी गयी। जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने समस्त ग्राम वासियों से अपील करते हुए कहा कि इस वैश्विक महामारी  से लड़ने का एक ही उपाय है,मास्क लगाए रखे तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे।
जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्राम में अभियान चलाकर लगातार कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कराते रहे।
तथा आशा बहु को निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त गांव का पुनः डोर टू डोर सर्वे करते हुए खांसी ,जुखाम एवं बुखार आदि के लक्षण वाले व्यक्तियों को चिन्हित करते हुए स्वास्थ्य विभाग को उनकी सूची उपलब्ध कराएं ताकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा समस्त लोगों की सैंपलिंग करायी जा सके।
इसके लिए उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि कल ही अभियान चलाकर सभी ग्रामीणों की जांच कराए।
उन्होंने ग्राम निगरानी समिति को निर्देशित करते हुए कहा कि गांव में आने वाले व्यक्तियों की सूची बनाते हुए उनकी जांच करायी जाए।
उन्होंने कहा कि गांव के 16 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले है सभी को बहुत सावधानी रखनी है जैसे ही किसी को खांसी जुखाम बुखार का लक्षण होता है तो वह तत्काल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आकर अपनी कोरोना जांच अवश्य कराएं।
 इसमें सभी ग्रामीण अपना सहयोग करें क्योंकि कोरोना   संक्रमण को रोकना है इनके लिए सभी ग्राम वासियों का सहयोग महत्वपूर्ण है।
 मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने ग्रामवासियों से अपील करते हुए कहा कि डेंगू मच्छर पनपने ना दे यह मच्छर साफ पानी में पनपते हैं आपके घर की छतों पर गमलों में कूलर के पानी में आदि जगह यह मच्छर पनपते हैं सभी जगह ध्यान रखना है कि पानी एकत्र न हो।
तत्पश्चात जिलाधिकारी ने गांव का भ्रमण किया।
गांव के भ्रमण के दौरान एक गली में गंदगी मिली तथा गांव के तालाब के पास जहां गोबर एकत्र किया जाता था उसके पास एक गढ्ढा था जिसमें गंदा पानी एकत्रित था जिसे देख जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल उसे बंद कराने के निर्देश दिए।
उन्होंने ग्राम विकास अधिकारी को अपने दायित्वों का निर्वाहन जिम्मेदारी से न करने के कारण  प्रतिकूल प्रवेष्टि दिए जाने के दिए और उन्हें चेतावनी देते हुए कहा कि गांव में साफ- सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए,
यदि भविष्य में गंदगी मिलती है तो ग्राम विकास अधिकारी के  खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
इस दौरान जिलाधिकारी के साथ मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा उपजिलाधिकारी नर्वल रिजवाना शाहिद तहसीलदार विनीत कुमार आदि मौजूद रहे।