अजब गजब के खेल मानकों को ताक पर रखकर पीले ईटों से सामुदायिक शौचालय का निर्माण

अजब गजब के खेल मानकों को ताक पर रखकर पीले ईटों से सामुदायिक शौचालय का निर्माण

बछरावां/रायबरेली- एक तरफ सरकार स्वच्छ भारत मिशन के तहत पूरे विकासखंड में सभी ग्राम सभाओं में सामुदायिक शौचालय निर्माण कराया जा रहा है लेकिन ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत अधिकारियों की खाउ कमाऊ नीति के कारण सामुदायिक शौचालय निर्माण में जमकर धांधली हो रही है ग्रामीणों की शिकायत पर कन्नवां ग्राम सभा मैं बन रहे सामुदायिक शौचालय में पीले ईट और घटिया मसाला लगाकर निर्माण किया जा रहा है जिस पर संवाददाता ने ग्राम प्रधान पति मोलहे राम से जानकारी ली तो प्रधान पति ने बताया कि मटरू कांट्रेक्शन कंपनी द्वारा निर्माण कराया जा रहा है हम और हमारे सिग्रेटरी देखभाल  करते हैं इसी तरह नीम टीकर ग्राम सभा में पंचायत घर के सामने जो भी शौचालय निर्माण कराया गया है वह बिल्कुल घटिया मसाले और ईटो से कराया गया है इसी तरह ग्राम सभा रसूलपुर में भी पीली ईंट और डस्ट से निर्माण किया जा रहा है वहीं सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार विकासखंड की सभी ग्राम सभाओं में जहां निर्माण हो रहा है वहा सामुदायिक शौचालयों में न्यू से लेकर छत तक पूरा घालमेल है वहीं सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सामुदायिक शौचालय निर्माण में जमकर बंदरबांट किया जा रहा है जानकारी के अनुसार खंड विकास अधिकारी को चार पर्सेंट कमीशन और ग्राम प्रधान को 40000 ग्राम पंचायत अधिकारी प्रति शौचालय 40000 का खुला खेल डंके की चोट पर मानक विहीन शौचालय बनाकर खुली लूट जारी है वही जिले के आला अधिकारी ना तो कोई इस घटिया निर्माण की जांच करा रहे हैं और हिना कोई कार्रवाई की जा रही है