असहन जगतपुर में विवाहिता की मौत,मचा हडकम्प

*असहन जगतपुर में विवाहिता की मौत,मचा हडकम्प*

*रिपोर्टर योगेश कुमार*

● भाई की सूचना पर पुलिस ने शव पीएम के लिए भेजा ● गांव पहुंचे सीओ ने परिजनों से की पूछताछ रायबरेली। शिवगढ़ थाना क्षेत्र के रघुनाथ खेड़ा मजरे असहन जगतपुर में रविवार की देर रात उस समय हड़कम्प मच गया जब अचानक तबियत बिगड़ने से विवाहिता की मौत हो गई। मृतका के भाई की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। ससुराल पक्ष के मुताबिक रघुनाथ खेड़ा गांव के रहने रामकेवल की पत्नी रानी उम्र 28 वर्ष, रविवार की सुबह उठी तो उनकी तबियत अनमन थी पेट में दर्द होने के साथ ही दस्त जैसी शिकायत थी। हालत बिगड़ती देख जिन्हे निजी चिकित्सालय ले जाया गया। बताते हैं कि इलाज के बाद भी महिला की हालत में सुधार नही हुआ, हालत ठीक होने के बजाय और बिगड़ती चली गई जिसकी देर रात मौत हो गई। मौत की खबर से परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं अचानक हालत बिगड़ने से हुई महिला की मौत की खबर सुनते ही मौके पक्ष में हडकम्प मच गया। सूचना पर पहुंचे मृतका के मायके पक्ष ने मौत का कारण स्पष्ट ना होने के चलते आशंका जताते हुए शिवगढ़ पुलिस को सूचना देकर पीएम कराने की मांग की। मृतका के भाई की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के बाद पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थानाध्यक्ष धीरेंद्र कुमार यादव ने बताया कि मौत का कारण स्पष्ट ना होने के चलते मृतका के भाई संजय कुमार पुत्र शंकरलाल निवासी पहुरावां,थाना बछरावां, जनपद रायबरेली ने सूचना देकर आशंका जताते हुए न्यायोचित तरीके से पीएम कराने की मांग की थी। शव पीएम के लिए भेज दिया गया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा। जिसके बाद आगे की कार्यवाई की जाएगी। सीओ ने की परिजनों से पूछताछ सूचना पर मृतका के घर पहुंचे महराजगंज क्षेत्राधिकारी राघवेंद्र चतुर्वेदी ने परिजनों से पूछताछ की एवं मायके पक्ष को ढाढ़स बंधाते हुए कहा कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद पीएम रिपोर्ट के हिसाब से विधिक कार्रवाई की जाएगी। *3 मासूम बच्चों के सिर से उठ गया मां का साया* बछरावां थाना क्षेत्र के पहरावां गांव के रहने वाले शंकरलाल की पुत्री रानी की शादी करीब 9 वर्ष पूर्व रघुनाथ खेड़ा मजरे असहन जगतपुर गांव के रहने वाले रामकेवल पुत्र देवीदीन से हुई थी। रानी के एक बेटा और दो बेटियां हैं। रानी की मौत से उनके बेटे हर्षित (7), पुत्री अनामिका (4), अनुष्का (1) के सिर से मां का साया उठ गया है। मां की मौत से मासूम बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है।