कानपुर बार, दि लायर्स एवम् व्यापार कर एसोसिएशन ने मिलकर प्रधानमंत्री को दिया ज्ञापन…

Please Share

कानपुर बार, दि लायर्स एवम् व्यापार कर एसोसिएशन ने मिलकर प्रधानमंत्री को दिया ज्ञापन…

कानपुर बार एसोसिएशन में अधिवक्ताओं के लिए सरकारों का नजरिया 70 वर्षों से कोई खास नहीं रहा है ,शून्य ही नजर आता है और सरकारों को हमेशा ज्ञापन भी दिया जाता रहा है लेकिन आज तक कोई भी सरकार अधिवक्ताओं के प्रति खरी नहीं उतरी है। और फिर एसोसिएशन में सभी अधिवक्ताओं ने मिलकर सरकार को ज्ञापन दिया हैं अधिवक्ताओं के लिए ज्ञापन की मुख्य मांगे इस प्रकार हैं ।

जैसे- १. बैठने का समुचित स्थान दिया जाना चाहिए अधिवक्ताओं के लिए लाइब्रेरी की व्यवस्था की जानी चाहिए इंटरनेट की सुविधा का भी विशेष ध्यान देना चाहिए और भी अनेक सुविधाएं हैं जैसे बिजली पीने का शुद्ध पानी और टॉयलेट की भी विशेष व्यवस्था की जानी चाहिए।

२. अधिवक्ताओं के लिए इंश्योरेंस की व्यवस्था भी किया जाना चाहिए और वादकारियों के लिए कम से कम 5000 करोड़ रुपए की धनराशि का बजट में सरकार के द्वारा व्यवस्था करना चाहिए।

३. नए अधिवक्ताओं के लिए यदि व अधिवक्ता , अधिवक्तावृत्ति से जोड़ता है तो वकालत/प्रैक्टिस की 5 साल अवधि तक कम से कम ₹10000 की धनराशि का भी सरकारों के द्वारा बजट में प्रावधान किया जाना चाहिए।

४. यदि किसी दुर्घटना वर्ष किसी भी अधिवक्ता की मृत्यु हो जाती है तो अधिवक्ताओं के परिवार को के पालन पोषण के लिए लगभग 2500000 लाख रुपए की धनराशि की व्यवस्था किया जाना चाहिए।

५. अधिवक्ताओं के कल्याण के लिए सरकारों के द्वारा लगभग 10 करोड़ की धनराशि का प्रावधान भी बजट किया जाना चाहिए जैसे तेलंगना सरकार के द्वारा अधिवक्ताओं को लाभ दिया जा रहा है ।

६. अधिवक्ताओं के लिए भूमि अभिलेख कम और सस्ते दरों पर सरकारों को उपलब्ध करवाया जाना चाहिए।

७. रिटायर जजों की भांति विशेष सुयोग्य अधिवक्ताओं के लिए ट्रिब्यूनल व अन्य अथॉरिटी विभागों में नियुक्ति किए जाने का प्रावधान सरकारों को किया जाना चाहिए। अधिवक्ताओं के ज्ञापन में उपस्थित मुख्य रुप से अधिवक्ता दि लयार्स एसोसिएशन अध्यक्ष रामसेवक यादव,कानपुर बार एसोसिएशन अध्यक्ष श्याम जी श्रीवास्तव,कपिल दीप सचान,प्रदीप द्विवेदी, महेंद्र शर्मा,, जितेंद्र सिंह तोमर, आर. के.तिवारी, हरिओम गुप्ता, आर.के.यादव, विजय कुलश्रेष्ठ,जगजीवनराम और रविन्द्र गौतम आदि सैकड़ों अधिवक्ता उपस्थित रहे।
दि- लायार्स, बानपुर बार एवम् व्यापार कर एसोसिएशन कानपुर।

दार्शनिक प्रीतम सिंह –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »