योगी पर टिप्पणी के बाद न्यूज चैनल की एमडी समेत 3 पत्रकार गिरफ्तार।

Share A Public Route

दरसअल, 6 जून को कानपुर नगर के नवाबगंज निवासी एक महिला मुख्यमंत्री के सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग पर उनसे मिलने की जिद पर अड़ गई थी। वो खुद को उनकी प्रेमिका बता रही थी। उसका दावा था कि योगी आदित्यनाथ पिछले एक वर्ष से ऑनलाइन सुबह से लेकर रात तक उसके साथ रहते रहे। यह महिला तलाकशुदा है और वह 100 रुपये के स्टांप पर प्रेम पत्र लिखकर पहुंची थी। महिला वह योगी को सीधे सौंपना चाहती थी। इस प्रेम पत्र में उसने बहुत कुछ लिखा था।

Loading…

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के दो अलग-अलग मामलों में प्रदेश पुलिस ने एक न्यूज चैनल की एमडी समेत 3 पत्रकारों को गिरफ्तार किया है। हजरतगंज थाना प्रभारी राधारमण सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री कार्यालय से शुक्रवार देर रात स्वतंत्र पत्रकार प्रशांत जगदीश कन्नौजिया के खिलाफ एसएसपी कलानिधि नैथानी को केस दर्ज कराने का निर्देश दिया गया था।  शनिवार दोपहर को हजरतगंज थाना पुलिस और साइबर सेल की टीम ने प्रशांत को दिल्ली से गिरफ्तार किया।

जगदीश ने 6 जून को अपने ट्विटर हैंडल पर ‘इश्क छुपता नहीं छुपाने से योगी जी’ शीर्षक से एक पोस्ट की थी। साथ ही एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें एक युवती मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर खड़ी होकर खुद की योगी आदित्यनाथ की प्रेमिका बता रही थी। 

दूसरे मामले में नोएडा पुलिस ने सेक्टर-65 स्थित न्यूज चैनल की एमडी इशिका सिंह समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि 6 जून को चैनल के कार्यालय में ‘कानपुर की एक महिला का सीएम योगी आदित्यनाथ से संबंध है कि नहीं?’ विषय पर एक लाइव डिबेट की थी।  

एसएसपी ने बताया कि मुख्यमंत्री के खिलाफ बगैर पड़ताल गलत खबर चलाने के मामले में नोएडा कोतवाली फेस-3 में केस दर्ज किया गया था। इशिका समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। मामले की जांच की जा रही है और जिनकी भूमिका संदिग्ध होगी उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा।

Author: admin

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

खेलते-खेलते 150 फुट गहरी बोरवेल में जा गिरा 2 साल का बच्चा

Tue Jun 11 , 2019
Share A Public Routeपंजाब के संगरूर जिले में 150 फीट गहरे बोरवेल में फंसे 2 साल के बच्चे को मंगलवार की सुबह करीब 109 घंटे के बाद बाहर निकाल लिया गया. हालांकि अस्पताल ले जाने पर मृत घोषित कर दिया गया. बता दें, संगरूर जिले के भगवानपुरा गांव में 2 साल का बच्चा […]

खा़स आर्टिकल सिर्फ आप के लिये।

Loading…

Subscribe Please