श्रमिको के लिये जारी होने वाला है यह नियम जानिये पूरी खबर।

Public Route Share

औपचारिक क्षेत्र, विशेष रूप से श्रमिक वर्ग में श्रमिकों के हित की रक्षा के लिए, केंद्र ‘वन नेशन, वन पे डे’ (एक देश, एक ही वेतन (Salary) का दिन) प्रणाली शुरू करने की योजना बना रहा है, श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने शुक्रवार को कहा।

Loading...

केंद्रीय सुरक्षा निजी उद्योग संघ (CAPSI) द्वारा आयोजित सिक्योरिटी लीडरशिप समिट 2019 को संबोधित करते हुए गंगवार ने कहा, ‘विभिन्न क्षेत्रों में हर महीने एक पैन-इंडिया सिंगल वेज डे होना चाहिए ताकि श्रमिकों को समय पर वेतन मिल सके। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस कानून के जल्द से जल्द पारित होने के लिए उत्सुक हैं। इसी तरह, हम सभी क्षेत्रों में समान न्यूनतम मजदूरी देख रहे हैं जो श्रमिकों की बेहतर आजीविका की रक्षा करेगा।’

केंद्र सरकार ऑक्यूपेशनल सेफ्टी, हेल्थ एंड वर्किंग कंडीशंस (OSH) कोड और वेजेज कोड लागू करने की प्रक्रिया में है। संसद ने पहले ही मजदूरी पर संहिता पारित कर दी है और इसके कार्यान्वयन के लिए नियम बनाए जा रहे हैं। OSH कोड 23 जुलाई, 2019 को लोकसभा में पेश किया गया था।

यह कोड सुरक्षा, स्वास्थ्य और काम की परिस्थितियों से संबंधित 13 केंद्रीय श्रम कानूनों को एक ही कोड में विलय करके श्रमिकों के कवरेज को बढ़ाकर निजी क्षेत्र के लिए कारगर साबित होगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि 2014 में पद संभालने के बाद से, मोदी सरकार ने श्रम कानूनों में सुधार के लिए लगातार काम किया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार कर्मचारियों के हित को ध्यान में रखते हुए सभी सेक्टरों में एक समान न्यूनतम वेतन की दिशा में भी काम कर रही है।

Loading...
Loading...

jaya verma

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

14 माह से सह रही है पेट में रखी खोपड़ी का दर्द ।

Sat Nov 16 , 2019
Public Route Shareआयुष्मान योजना गरीबों के लिए वरदान साबित हो रही है। फिरोजाबाद में धन अभाव के कारण साधना को पेट में रखी खोपड़ी की हड्डी ने 14 माह तक दर्द दिया। जब ‘आयुष्मान’ मिला तो साधना देवी को नया जीवन मिल गया। आज साधना पूरी तरह से स्वस्थ्य है। […]

खास आप के लिये।

Loading…

Facebook Share